Home » इंडिया » explosive found outside mahabodhi temple in bodh gaya, Dalai Lama is staying at the nearby Buddhist Monastery
 

दलाई लामा के प्रवास के दौरान महाबोधि मंदिर परिसर से मिले 2 बम, हड़कंप

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 January 2018, 9:17 IST
(twitter of ani)

बिहार के बोध गया जिले में बौद्धों के पवित्र तीर्थ स्थल महाबोधि मंदिर के पश्चिम मस्जिद वाली सड़क में मंदिर के चार नंबर गेट के पास एक झोले में अल्यूमीनियम के बरतन में बम जैसा सामान मिलने से अफरा तफरी मच गयी. सामान बरामदगी के बाद बोधगया में हाईअलर्ट कर दिया गया. यह घटना उस समय सामने आई जब तिब्बती धर्म गुरु दलाई लामा बोध गया के दौरे पर आए हुए हैं और मंदिर के परिसर में ही मौजूद हैं.

जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार की रात करीब आठ बजे पुलिस को सूचना मिली कि मंदिर के चार नंबर गेट के पास लावारिस हालत में एक झोला पड़ा है. इसके बाद आनन फानन में एसएसबी के बम निरोधक दस्ते व डॉग स्क्वाड को बुलाया गया व इसकी जांच की गई. डॉग स्क्वाड ने इस दौरान महाबोधि मंदिर के पूर्वी हिस्से के गोदाम रोड में भी जांच की. सामान मिलने के बाद एसएसपी समेत सारे वरीय पुलिस पदाधिकारी बोधगया पहुंचे व जांच शुरू कर दी.

बौद्ध धर्म गुरु दलाई लामा बोधगया में प्रवास कर रहे हैं व कालचक्र मैदान में उनका प्रवचन व अन्य कार्यक्रम जारी है. महाबोधि मंदिर में निग्मा मोनलम चेन्मो जारी है. इसे लेकर बौद्ध श्रद्धालुओं के साथ-साथ कई देशों के पर्यटक भी बोधगया में मौजूद हैं. बोधगया में सुरक्षा को लेकर करीब तीन हजार पुलिसकर्मियों की तैनाती की गयी है.

 

इन सब के बावजूद महाबोधि मंदिर की चहारदीवारी के बाहर लावारिस हालत में आपत्तिजनक सामान बरामद होना चिंता का विषय है. घटना के बाद दलाई लामा के प्रवास स्थल तिब्बत मोनास्टरी के आसपास के क्षेत्रों को पूरी तरह सील कर दिया गया है. उनकी सुरक्षा में एसएसबी के जवानों को तैनात कर दिया गया है. उस मार्ग से गाड़ियों की आवाजाही पर रोक लगा दी गयी है. एसएसपी सहित अन्य पुलिस पदाधिकारी कैंप कर रहे हैं.

इससे पहले भी महाबोधि पर हमला हो चुका है. साल 2013 में वहां पर सीरियल ब्लास्ट हो चुके हैं जिसमें कई लोग घायल हुए थे. करीब 10 बमों को मंदिर के परिसर के अंदर छिपाया गया था. उस समय गृहमंत्रालय ने मंदिर की सुरक्षा के लिए सीआईएसएफ तैनात करने का फैसला किया था.

डीआईजी विनय कुमार ने बताया कि वह बोधगया से बम की शक्ल में बरामद वस्तु की जांच के लिए सीआरपीएफ व एसएसबी की मदद ली जायेगी. फिलहाल, एसएसबी के जवानों ने उस सामान को कब्जे में ले लिया है. इस घटना के बाद से धार्मिक स्थल की सुरक्षा को लेकर एक बार फिर से सवाल खड़े हो गए हैं.

First published: 20 January 2018, 9:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी