Home » इंडिया » eyewitness told the real story of mumbai foot overbridge collapses
 

मुंबई में फुटओवर ब्रिज गिरने से 5 लोगों की मौत, 36 घायल

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 March 2019, 8:11 IST

मुंबई में गुरुवार देर शाम सीएसएटी रेलवे स्टेशन के पास एक फुटओवर ब्रिज अचानक गिर गया. इस हादसे में 5 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, 36 लोग घायल हो गए हैं. घायलों को इलाज के लिए अस्पताल सेंट जॉर्ज हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है.

हादसे के बाद राहत और बचाव के लिए एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंच राहत बचाव कार्य शुरू कर दिया है. ये हादसा ऐसे समय पर हुआ जब लोग ऑफिस से अपने घर लौटते हैं. पीक आवर्स होने के कारण ब्रिज पर काफी संख्या में लोग मौजूद थे.

हादसे का शिकार हुए पांचों मृतक की पहचान हो चुकी है. पहचान किए गए मृतकों के नाम अपूर्वा प्रभु (35), रंजना काम्बले (45), जाहिद (32), भक्ति शिंदे (40), तापेंद्र सिंह (35) शामिल हैं. खबरों के अनुसार, अपूर्वा प्रभु और रंजना काम्बले जीटी अस्पताल में काम करती थीं.

हादसे के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना दुख जताते हुए ट्वीट कर लिखा, "मुंबई में हुए ब्रिज हादसे के कारण हुई लोगों की मौत की खबर सुनकर बहुत दुखी हूं. मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं और मैं इस घटना में घायल लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं. महाराष्ट्र सरकार इस हादसे में हताहत सभी लोगों को हर संभव मदद दे रही है."

 

हादसे का शिकार हुए लोगों को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस ने मुआवजा देने का ऐलान किया है. मुख्यमंत्री ने मृतक के परिजनों को 5 लाख रुपए और घायलों को 50 हजार रूपए देने का ऐलान किया है. वहीं, घायलों का राज्य सरकार की ओर से मुफ्त में इलाज करवाया जाएगा.

वहीं, घायलों से मिलने के लिए गिरीश महाजन जीटी हॉस्पिटल पहुंचे. अस्पताल का जायजा लेने के बाद उन्होंने कहा कि अस्पताल में पर्याप्त संख्या में डॉक्टर और विशेषज्ञ मौजूद है. साथ ही ब्लड बैंड में भी ब्लड पर्याप्त है.

Video: इस ‘BOMB’ के चपेट में आने से 8 करोड़ लोगों की जान आफत में, आ गई है तबाही

First published: 15 March 2019, 8:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी