Home » इंडिया » Facebook data leak related company Cambridge Analytica announced itself Bankrupt
 

डेटा लीक मामले में घिरी कैम्ब्रिज एनालिटिका हुई दिवालिया, सारे कामकाज करेगी बंद

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 May 2018, 8:42 IST

फेसबुक डेटा लीक मामले में विवादों में रही ब्रिटिश कंपनी कैम्ब्रिज एनालिटिका ने अपने सभी काम तत्काल प्रभाव से बुधवार को बंद करने की घोषणा कर दी है. खुद को दिवालिया घोषित करने के लिए कंपनी ने ब्रिटेन और अमेरिका में आवेदन भी दिया है.

एएनआई के सूत्रों के अनुसार, कंपनी ने कहा है कि यह तय किया गया है कि अब व्यवसाय में बने रहने की कोई संभावना नहीं है. कंपनी पर फेसबुक के करोड़ों यूजर्स की निजी जानकारी का दुरूपयोग करने का आरोप है.

इस बात की पुष्टि कैंब्रिज एनालिटिका की पैरेंट कंपनी एससीएल ग्रुप के संस्थापक नाइजेल ओक्स की, उन्होंने कहा की कंपनी अब सरे काम बंद कर रही है.

ये भी पढ़ें- फिर हुआ डेटा लीक, EPFO पोर्टल हैकिंग से 2.7 करोड़ लोगों का डेटा चोरी

गौरतलब है कि फेसबुक डेटा लीक मामले में जांच को लेकर कंपनी पर लीगल फीस की बड़ी मार पड़ी है. साथ ही विवादों में होने की वजह से कंपनी लगातार अपने क्लाइंट खो रही थी. एएनआई ने इस मामले से संबंधित एक व्यक्ति के हवाले से जानकारी दी है.

 

इसके पहले मार्च महीने में कंपनी के सीईओ अलेक्जेंडर निक्स को निलंबित कर दिया गया था. निक्स ने ऑन रिकॉर्ड दूसरे देशों के चुनावों को प्रभावित की बात स्वीकार की थी. कैंब्रिज एनालिटिका के डेटा चोरी मामले को व्हिसलब्लोअर क्रिस्टोफर विली ने खुलासा किया था. फेसबुक ने अप्रैल में इस मामले को स्वीकार किया था कि 87 मिलियन यूजर्स के डेटा में कैंब्रिज एनालिटिका ने सेंध लगाई थी.

हाल ही में कंपनी पर यह भी आरोप लगा था कि उसने 2014 में भारत के आम चुनावों को भी प्रभावित किया था. कैंब्रिज एनालिटिका ने 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों में डोनाल्ड ट्रंप के लिए काम किया था.

First published: 3 May 2018, 8:42 IST
 
अगली कहानी