Home » इंडिया » Farmers Protest: Sonia Gandhi claims 50 farmers lost their lives
 

50 से ज्यादा आंदोलनरत किसानों की गई जान, फिर भी नहीं पसीज रहा PM मोदी का दिल- सोनिया गांधी

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 January 2021, 15:59 IST

Farmers Protest: तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में किसान पिछले लगभग 40 दिनों से कड़ाके की ठंड और बारिश के कहर के बीच देश के विभिन्न इलाकों मेंं प्रदर्शन कर रहे हैं. इस दौरान कई किसानों के आत्महत्या की खबरें भी सामने आईं. कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने किसान आंदोलन को लेकर मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा है. 

सोनिया गांधी ने किसानों के समर्थन में बयान जारी कर केंद्र सरकार तथा प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर हमला बोला है. अपने बयान में सोनिया गांधी ने कहा कि किसान कंपकपाती ठंड तथा बरसात के कहर के बीच दिल्ली की सीमाओं पर अपनी मांगों के समर्थन में 39 दिनों से संघर्ष कर रहे हैं.

सोनिया गांधी ने कहा कि अन्नदाताओं की यह हालत देखकर देशवासियों समेत उनका मन भी बहुत व्यथित है. लेकिन केंद्र सरकार आंदोलन को लेकर बेरुखी अपनाए हुई है. इसके चलते अब तक 50 से ज्यादा किसानों ने अपनी जान गंवा दी है. उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार की उपेक्षा के चलते कुछ किसानों ने आत्महत्या जैसा कदम भी उठा लिया.

किसान आंदोलन: राहुल गांधी ने की चंपारन त्रासदी की बात, अंग्रेज कम्पनी से की मोदी मित्र कंपनी की तुलना

सोनिया गांधी ने कहा कि किसानों की आत्महत्या के बाद भी मोदी सरकार बेरहम बनी हुई है. मोदी सरकार का ना तो दिल पसीजा है और न ही प्रधानमंत्री अथवा किसी मंत्री ने अपने मुंह से किसानों के लिए सांत्वना का एक शब्द भी निकाला है. उन्होने कहा कि यह आजादी के बाद देश की सबसे अहंकारी सरकार है.

सोनिया गांधी ने कहा कि देश के इतिहास की यह पहली ऐसी अहंकारी सरकार है जिसे आम जनता तो दूर, देश का पेट भरने वाले किसानों की पीड़ा तथा संघर्ष भी दिखाई नहीं दे रहा. उन्होंने आरोप लगाया कि मुट्ठी भर उद्योगपति तथा उनका मुनाफा सुनिश्चित करना ही इस सरकार का मुख्य एजेंडा बनकर रह गया है.

Coronavirus Vaccine : DCGI ने Oxford वैक्सीन और भारत बायोटेक की Covaxin को दी मंजूरी

हिंदू देवी-देवताओं पर अभद्र टिप्पणी के आरोप में स्टैंड अप कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी अरेस्ट, पढ़िए क्या कहा था

First published: 3 January 2021, 15:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी