Home » इंडिया » Farooq Abdullah criticize pakistan after Sunjwan Army Camp Attack in jammu Kashmir by terrorist
 

सेना के ठिकानों पर हुए आतंकी हमले के बाद फारूक़ अब्दुल्ला ने पाक को दिखाया आईना

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 February 2018, 19:14 IST

जम्मू-कश्मीर में पिछले दो दिनों में दो बड़ी आतंकी वारदातें हुई हैं. रविवार को सुंजवान शिविर कैंप में हुए आतंकी हमले में पांच सैनिकों सहित 6 लोगों की मौत हो गई थी. सोमवार को भी श्रीनगर के कर्ण नगर में स्थित सीआरपीएफ कैंप में आतंकियों ने हमले की कोशिश की, जिसे गेट में तैनात संतरी ने नाकाम कर दिया.

हमले में नाकाम होने के बाद आतंकी पास की इमारत में छुप गए. इस समय भी आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ जारी है. मुठभेड़ में अभी तक एक जवान के शहीद होने की खबर आ रही है. दो दिन में हुए इन आतंकी हमलों के बीच जम्मू-कश्मीर में भी राजनीति तेज हो गई है. सोमवार को जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने इस हमले पर पाकिस्तान को निशाने पर लिया.

फारुक अब्दुल्ला ने सोमवार को कहा, "जितना आतंकवाद बढ़ेगा, उतनी मुसीबत आएगी. और उनके मुल्क (पाकिस्तान) में ज्यादा मुसीबत आएगी. वहां कुछ भी नहीं रहेगा. अगर यही सूरत रही तो हिंदुस्तान की हुकूमत को भी सोचना पड़ेगा कि अगला कदम क्या होगा."

अपने विवादित बयानों की वजह से सुर्खियों में रहने वाले फारुक अब्दुल्ला ने इस बार पाकिस्तान को लेकर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. वहीं इसके उलट जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती ने सोमवार को कहा कि बातचीत के जरिए समस्या का समाधान होगा.

उन्होने अपने बयान पर प्रतिक्रिया व्यए कहा कि आज मुझे टीवी न्यूज चैनलों के ऐंकरों द्वारा ऐंटी नैशनल का तमगा दे दिया जाएगा लेकिन मुझे इससे फर्क नहीं पड़ता. जम्मू-कश्मीर के लोग पीड़ित हैं. हमें बात करनी होगी क्योंकि युद्ध उपाय नहीं है.

गौरतलब है कि सेना के शिविर पर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों ने हमला किया. इसके बाद सेना ने 3 आतंकियों को मार गिराया. इनमें से कल 2 आतंकियों को मार गिराया. लेफ्टिनेंट कर्नल आनंद ने बताया कि उनके पास से एके-56 राइफल, अंडर बैरेल ग्रेनेड लांचर, गोला-बारुद और ग्रेनेड जब्त किये गए हैं.

ये भी पढ़ें- सीएम महबूबा बोली- 'इस रक्तपात को रोकना चाहते हैं तो पाकिस्तान से बातचीत जरूरी है'

First published: 12 February 2018, 19:14 IST
 
अगली कहानी