Home » इंडिया » Fighter Rafale Jet First LooK Going To Join Indian Air Force In September 2019
 

वीडियो में देखें राफेल की रफ्तार, 3700 किलोमीटर दूर से दुश्मन को कर सकता है नेस्तोनाबूद

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 November 2018, 14:16 IST

राफेल डील को लेकर केंद्र सरकार और विपक्ष में अभी भी तनातनी चल रही है. इसी बीच राफेल बनाने वाली कंपनी दसॉल्ट ने राफेल की तस्वीरें जारी कर उसकी ताकत के बारे में बताया है. राफेल लड़ाकू विमान का पहली बार एक वीडियो सामने आया है. जिसमें राफेल को उड़ान भरते देखा जा सकता है. इस वीडियो को देखकर आप खुद अनुमान लगा सकते हैं कि जब राफेल भारतीय वायुसेना में शामिल हो जाएगा तो भारत की ताकत कितनी बढ़ जाएगा.

राफेल ने अपनी पहली उड़ान फ्रांस के इस्तरे-ली ट्यूब एयरबेस से भरी. बता दें कि लंबे समय से राफेल के मामले में चल रहे विवाद के बाद समाचार एजेंसी एएनआई ने दसॉल्ट के सीईओ एरिक ट्रैपियर ने कई खुलासे किए हैं.

कंपनी के सीईओ एरिक ने राफेल डील मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोपों को सिरे खारिज करते हुए कहा, "मैं झूठ नहीं बोलता हूं. मैं जिस जगह बैठा हूं वहां झूठ नहीं बोला जा सकता है.” बता दें कि राहुल गांधी ने 2 नवंबर को राफेल डील को लेकर आरोप लगाया था कि दसॉ ने नुकसान झेल रही अनिल अंबानी की कंपनी में 284 करोड़ रुपये निवेश किए हैं.

इतनी ऊंचीई पर उड़ने में सक्षम है राफेल विमान

राफेल फाइटर विमान में कई ऐसी खासियत हैं, जो इसे अन्य लड़ाकू विमानों से अलग बनाती हैं. अत्याधुनिक हथियारों से लैस यह फाइटर जेट दुश्मनों के खेमे में जाकर बहुत आसानी से उनकी धज्जियां उड़ा सकता है. इस विमान में दो इंजन लगे हुए हैं. राफेल जेट 2,130 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से उड़ान भरने में सक्षम है.

यही नहीं राफेल करीब 3700 किलोमीटर के दायरे में खड़े दुश्मन को कहीं भी नेस्तनाबूद कर सकता है. भारतीय वायुु सेना को मिलने जा रहे इस विमान का फ्रांस के इस्त्रे-ले-ट्यूब एयरबेस पर परीक्षण किया गया. पहले विमान को रनवे पर उतारा गया और फिर उसने उड़ान भरी. जिसका वीडियो समाचार एजेंसी एएनआई ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है.

बता दें कि राफेल कई मामलों में दूसरे फाइटर जेट से अलग है. जानकारी के मुताबित, राफेल लड़ाकू विमान 36,0000 से 60,000 फीट की ऊंचाई तक उड़ान भर सकता है. यही नहीं ये विमान दुश्मनों को धोखा देने और इस ऊंचाई तक पहुंचने में महज एक मिनट का समय लेता है. एक बार ईंधन भरने पर यह लगातार 10 घंटे की उड़ान भर सकता है. राफेल पर लगी गन एक मिनट में 125 फायर करने में सक्षम है.

इस फाइटर जेट करीब 24,500 किलोग्राम तक वजन के साथ उड़ान भर सकता है. वहीं परमाणु हथियार ले जाने में भी ये विमान सक्षम हैं. बता दें कि भारत और फ्रांस के बीच 36 राफेल फाइटर जेट की खरीद के लिए डील हुई थी. ये विमान अगले साल भारतीय सेना में शामिल हो जाएगा.

ये भी पढ़ें- विशाखापत्तनम में है दुनिया का सबसे उम्रदराज वोटर, 352 साल से डाल रहा है वोट

First published: 14 November 2018, 14:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी