Home » इंडिया » Film on Muzaffarnagar riots Shorgul release date postponed to july 1
 

मुजफ्फरनगर दंगों पर बनी फिल्म 'शोरगुल' की रिलीज फिर टली

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 June 2016, 12:44 IST
(फिल्म-शोरगुल)

यूपी में मुजफ्फरनगर दंगों पर बनी फिल्म 'शोरगुल' पर विवाद गहराता जा रहा है. फिल्म की रिलीज डेट को फिलहाल टाल दिया गया है. अब यह फिल्म 24 जून की जगह एक जुलाई को रिलीज होगी. ये दूसरी बार है जब शोरगुल फिल्म की रिलीज को टाला गया है. 

मुजफ्फरनगर में तीन साल पहले हुई सांप्रदायिक हिंसा की कथित पृष्ठभूमि पर आधारित फिल्म ‘शोरगुल' को अदालत और सेंसर बोर्ड की ओर से हरी झंडी मिल चुकी है, लेकिन इसके बावजूद राजनीतिक लोगों द्वारा पश्चिमी उत्तर प्रदेश में फिल्म की रिलीज का विरोध किया जा रहा है.

पश्चिमी यूपी में प्रदर्शन से इनकार

दूसरी ओर पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सिनेमाघरों में भी फिल्म को लेकर काफी डर बैठ गया है. नोएडा, गाजियाबाद, मेरठ और पश्चिमी यूपी के बाकी सिनेमाघरों ने फिल्म लगाने से मना कर दिया है.

सिनेमाघर प्रबंधकों का कहना है कि फिल्म लगाने से उनकी प्रॉपर्टी को काफी नुकसान हो सकता है. किसी भी तरह की अनहोनी से बचने के लिए मुजफ्फरनगर के सिनेमाघरों ने भी फिल्म दिखाने से इनकार कर दिया था. 

अब 1 जुलाई को रिलीज प्रस्तावित

भाजपा के विवादित नेता और मेरठ की सरधना सीट से विधायक संगीत सोम भी फिल्म के प्रदर्शन का विरोध करने की घोषणा कर चुके हैं.

संगीत सोम ने प्रशासन को चुनौती देते हुए कहा कि अगर ऐसा नहीं होता है, तो फिर उनको (संगीत सोम) ही इस मामले में कुछ करना पडेगा. संगीत सोम का आरोप है कि फिल्म में उदारवादी नेताओं की भूमिका को गलत तरीके से पेश किया गया है.

जिमी शेरगिल के खिलाफ फतवा

शोरगुल फिल्म पहले 17 जून को रिलीज होनी थी, लेकिन अभिषेक चौबे की चर्चित फिल्म‘उड़ता पंजाब’ से टकराव को बचाने के लिए फिल्म की रिलीज की तारीख 24 जून कर दी गई थी. इस फिल्म में जिमी शेरगिल और आशुतोष राणा मुख्य भूमिका में हैं.

इतना ही नहीं, इस फिल्म में मुख्य भूमिका निभा रहे अभिनेता जिमी शेरगिल के खिलाफ फतवा भी जारी कर दिया गया. खामन पीर बाबा कमेटी की तरफ से यह फतवा जारी किया गया है.

कमेटी का कहना है कि फिल्म में कुछ ऐसे डायलॉग बोले गए हैं, जो मुस्लिम समुदाय की भावनाओं को चोट पहुंचा सकते हैं.

'जनता के लिए सशक्त संदेश'

वहीं फिल्म के प्रोड्यूसर्स में से एक स्वतंत्र विजय सिंह ने एक बयान में कहा, "हमें अपनी फिल्म की रिलीज की तारीख आगे बढ़ाकर एक जुलाई करने के लिए मजबूर किया गया है. फिल्म के प्रदर्शन को लेकर कई तरह की आशंकाएं हैं. कई सिनेमा प्रबंधकों ने इस मामले में अपनी शंकाएं जाहिर की हैं."

सिंह ने साथ ही कहा, "हमारे आश्वासनों के बावजूद कई थियेटर फिल्म को प्रदर्शित न करने के अपने फैसले पर कायम हैं. पहली बार फिल्म निर्माण के बाद समर्थन न मिलने के कारण हम खुद को असहाय महसूस कर रहे हैं."

निर्माता ने कहा, "फिल्म में आम आदमी के लिए सशक्त संदेश है. हमें उम्मीद है कि प्रस्तावित तारीख पर फिल्म के आसानी से रिलीज होने में हमें जनता का पूरा समर्थन मिलेगा."

First published: 24 June 2016, 12:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी