Home » इंडिया » Filmmaker Ashok Pandit reaction on controversy letter of 49 celebs on mob lynching to pm modi
 

मॉब लिंचिंग पर पीएम मोदी को चिट्ठी लिखना देश को बदनाम करने की कोशिश- अशोक पंडित

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 July 2019, 11:11 IST

मॉब लिंचिंग की घटनाओं के लेकर 49 हस्तियों के हस्ताक्षर वाला एक पत्र इनदिनों सुर्खियों है. इस पत्र को पीएम मोदी के नाम लिखा गया था. जिसमें देश के अंदर नस्लीय और जातीय धार्मिक हिंसा पर नाराजगी जताई गई थी. इस चिट्ठी में फिल्म डायरेक्टर मणिरत्नम के भी हस्ताक्षर थे, लेकिन बाद में इस बाद खुलासा हुआ कि मणिरत्नम के ये हस्ताक्षर फर्जी थे उन्होंने ऐसी किसी चिट्ठी पर हस्ताक्षर नहीं किए थे. इस चिट्ठी को लेकर फिल्ममेकर अशोक पंडित ने अपना गुस्सा जाहिर किया है और इन हस्तियों को बरसाती मेंढ़क बताया है.

एक टीवी शो के दौरान अशोक पंडित ने कहा, “2019 में ये बरसाती मेढक बाहर आकर फिर से शोर मचा रहे हैं. चुनाव से पहले इनसे कह दिया गया है कि निकलो बाजार में और देश को गालियां देना शुरू कर दो. ये लोग विदेशों में देश को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं. अगर हम अपने देश में जय श्री राम नहीं बोलेंगे तो कहां बोलेंगे.”

उन्होंने इस चिट्ठी को लिखने वाले सभी लोगों को पेड एजेंट बताया. उन्होंने कहा कि जब भी चुनाव आने वाले होते हैं ये लोग सामने आकर मोदी सरकार के खिलाफ बोलना शुरू कर देते हैं. इस दौरान उन्होंने कहा कि, "2014 के पहले अवॉर्ड वापसी गैंग आया था और जब मोदी सरकार बन गई तो इनटॉलरेंस गैंग सामने आ गया.” पीएम मोदी के नाम लिखी गई इस चिट्ठी में साहित्य, सिनेमा, इतिहास और कला जगत की 49 हस्तियों के हस्ताक्षर हैं. बता दें कि इन पत्र में इन हस्तियों ने हस्ताक्षर हैं उनमें अदूर गोपालकृष्णन, रामचंद्र गुहा, अनुराग कश्यप का नाम भी शामिल है.

पश्चिम बंगाल में बीजेपी सांसद के घर फेंके गए बम, TMC पर लगाया आरोप

First published: 25 July 2019, 11:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी