Home » इंडिया » finland is the happiest country in the world india at 133 with slipped down 11 position
 

भारत से ज्यादा खुशहाल हैं पाकिस्तान, बांग्लादेश और नेपाल के लोग, लगातार तीसरे साल गिरी रैकिंग

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 March 2018, 11:07 IST

दुनिया के सबसे खुशहाल देशों की सूची में एक बार फिर यूरोप ने बाजी मार ली है. इस लिस्ट में पहले पायदान पर फिनलैंड है. वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट-2018 की लिस्ट में फिनलैंड को दुनिया का पहला खुशहाल देश माना गया है. वहीं भारत को 133वां स्‍थान दिया गया है. बता दें कि संयुक्त राष्ट्र की सस्टेनेबल डेवलपमेंट सॉल्यूशंस नेटवर्क ने 156 देशों की सूची जारी की है. इस सूची में शीर्ष 10 खुशहाल देशों में से 8 यूरोप के हैं, जबकि शीर्ष 20 में एशिया का एक भी देश नहीं है.

बता दें कि पिछले साल की सूची में पहले पायदान पर नॉर्वे था. इस सूची में सबसे नाखुश देश बुरडी को माना गया है. पिछले साल की तुलना में भारत की रैंकिंग में 11 पायदान की कमी दर्ज की गई है. चौंकाने वाली बात ये है कि पाकिस्तान, चीन, बांग्लादेश, श्रीलंका और म्यांमार जैसे देश हमसे ज्यादा खुशहाल हैं. इनमें पाकिस्तान 5 पायदान चढ़कर 75वें और श्रीलंका 4 स्थान चढ़कर 116वें पायदान पर हैं.

अमेरिका और ब्रिटेन में भी घटी खुशहाली

रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका, ब्रिटेन जैसे देशों की रैंक में भी गिरावट आई है. खुशहाल देशों की सूची में अमेरिका 18वें और ब्रिटेन 19वें पायदान पर है.

कैसे बनाई जाती है खुशहाद देशों की सूची

खुशहाल देशों की सूची 6 पैमानों के आधार पर तैयार की जाती है. इसमें आय, स्वास्थ्य, जीवन प्रत्याशा, सामाजिक सहयोग, आजादी, भरोसा और एक-दूसरे के प्रति उदारता या दानशीलता शामिल हैं.

हैप्पीनेस लागू करने वाला भूटान 97वें और यूएई 117वें पायदान पर है. वहीं इस सूची में टॉप 5 देशों में पहले स्थान पर फिनलैंड, दूसरे पर नॉर्वे, तीसरे पर डेनमार्क, चौके पर आइसलैंड, पांचवें पर स्विट्जरलैंड शामिल हैं. वहीं भारत के पड़ोसी देशों में पाकिस्तान 75 वें स्थान पर है. वहीं चीन 85, भूटान 97, नेपाल 101, बांग्लादेश 115 वें, श्रीलंका 116, म्यांमार 130 और भारत 133वें स्थान पर है.

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री के घर के पास बम ब्लास्ट, 7 की मौत, 20 घायल

First published: 15 March 2018, 11:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी