Home » इंडिया » Punjab: FIR against AAP leader Ashish Khetan for hurting religious sentiments
 

आप नेता आशीष खेतान पर धार्मिक भावनाएं भड़काने का केस दर्ज

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:49 IST
(फाइल फोटो)

आम आदमी पार्टी के नेता आशीष खेतान के खिलाफ पंजाब के अमृतसर में एफआईआर दर्ज कराई गई है. विधानसभा चुनाव के पहले अपनी युवा इकाई के घोषणापत्र के प्रमुख पृष्‍ठ पर स्वर्ण मंदिर का फोटो इस्तेमाल करना आम आदमी पार्टी को महंगा पड़ रहा है.

इसी मामले में आशीष खेतान के खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने का केस दर्ज हुआ है. हालांकि पार्टी की ओर से इस घोषणापत्र को लेकर माफी भी मांग ली गई है. घोषणापत्र के प्रकाशन के बाद से पार्टी आलोचना झेल रही है.

आम आदमी पार्टी (आप) ने मंगलवार को यह कहते हुए माफी मांगी कि उसका इरादा समाज के किसी भी वर्ग को आहत करना नहीं है. वहीं आशीष खेतान ने भी कहा, "मैं हाथ जोड़कर तहे दिल से माफी मांगता हूं, मेरी मंशा ठेस पहुंचाना नहीं थी. अनजाने में भूल हुई."

पार्टी के युवा घोषणा पत्र पर विवाद

दरअसल पंजाब डॉयलॉग के प्रमुख कंवर संधू ने कहा कि कुछ लोगों ने पार्टी के युवा इकाई के घोषणापत्र के मुख्य पृष्ठ के खिलाफ आपत्ति प्रकट की थी. हम उन सभी से माफी मांगते हैं जिनकी भावनाएं आहत हुई हैं.

साथ ही उन्होंने कहा कि हम यह सुनिश्चित करेंगे कि दोबारा ऐसा न हो. वहीं आप नेता आशीष खेतान ने कहा कि पार्टी किसी भी वर्ग, समुदाय या किसी भी व्यक्ति को आहत करने का इरादा नहीं रखती.

गुरुग्रंथ साहिब से तुलना का आरोप

आशीष खेतान ने अमृतसर में यूथ विंग का घोषणा पत्र जारी करने के दौरान उसकी तुलना गुरुग्रंथ साहब एवं अन्य धर्मग्रंथों से की थी.

वहीं पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने आप के युवा घोषणा पत्र के मुख्यपृष्ठ पर स्वर्ण मंदिर और उस पर आप के चुनाव चिह्न झाडू की तस्वीर लगाने को लेकर पार्टी की आलोचना की थी.

सुखबीर बादल ने कहा था कि यह पवित्र ग्रंथ का अनादर है, इसलिए आप संयोजक अरविंद केजरीवाल माफी मांगें.

First published: 6 July 2016, 11:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी