Home » इंडिया » पंजाब: पत्रकारों से बदसलूकी के मामले में भगवंत मान के खिलाफ एफआईआर दर्ज
 

पंजाब: पत्रकारों से बदसलूकी के मामले में भगवंत मान के खिलाफ एफआईआर दर्ज

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 September 2016, 16:01 IST
(पत्रिका)

पंजाब के फतेहगढ़ साहिब में पत्रकारों से बदसलूकी के मामले में भगवंत मान के खिलाफ बस्सी पठाना थाने में एफआईआर दर्ज की गई है. हिंदी अखबार में काम करने वाले एक पत्रकार ने भगवंत मान और उनके कार्यकताओं के खिलाफ केस दर्ज कराया है.

गौरतलब है कि गुरुवार को फतेहगढ़ साहिब के बस्सी पठाना में भगवंत मान ने एक रैली आयोजित की थी. रैली में मान करीब चार घंटे की देरी से पहुंचे. इस दौरान जब पत्रकारों ने उनसे देरी से आने का कारण पूछा तो मान भड़क उठे. आरोप है कि आप के कार्यकर्ताओं ने पत्रकारों के साथ बदसलूकी की.

मीडिया से सभा से जाने को कहा

मान ने कहा, "हमें 'आप' के कार्यक्रमों की मीडिया रिपोर्टिंग की कोई ज़रूरत नहीं." मान ने मीडियाकर्मियों को उनकी सभा से जाने को कहा. उन्होंने कहा कि मीडिया ने आम आदमी पार्टी के लिए कुछ नहीं किया. पंजाब का मीडिया बादल के हाथों बिक गया है.

भगवंत मान यही नहीं रुके. उन्होंने आगे कहा कि मुझे मीडिया की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि आम आदमी पार्टी वाले अखबार नहीं पढ़ते हैं.  इसके बाद कुछ आप कार्यकर्ताओं ने मीडिया कर्मियों को भगाने के लिए हाथा-पाई शुरु कर दी. इस दौरान कई मीडियाकर्मियों के कैमरे भी टूट गए.

फतेहगढ़ साहिब के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एचएस भुल्लर ने  कहा, ‘‘डीएसपी की रिपोर्ट मिलने के बाद जांच का काम सौंपा गया था और इस संबंध में कानूनी राय लेने के बाद हमने भगवंत मान और उनके कुछ पार्टी कार्यकर्ताओं के खिलाफ मामला दर्ज किया है.’’ 

मान के खिलाफ पत्रकार रंजदोह सिंह और अन्य मीडियाकर्मियों के बयान पर आईपीसी की विभिन्न धाराओं- 109, 153, 323, 341, 352, 355, 356, 427, 500, 504 और 149 के तहत मामला दर्ज किया गया है. इनमें से कुछ धाराएं विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने से जुड़ी हैं.

मीडियाकर्मियों ने कल मान के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई थी जिसमें कहा गया है कि बृहस्पतिवार को यहां बस्सी पठाना में एक राजनीतिक रैली में मान ने अपने समर्थकों के साथ मिलकर मीडियाकर्मियों के साथ र्दुव्‍यवहार किया और अपमानजनक टिप्पणियां की.

First published: 3 September 2016, 16:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी