Home » इंडिया » firing outside of naini central jail, 2 dead
 

इलाहाबाद: जेल के बाहर हिस्ट्रीशीटर के बेटे समेत दो की हत्या

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 June 2016, 11:10 IST
(एजेंसी)

इलाहाबाद के नैनी सेंट्रल जेल के बाहर रविवार को संदिग्ध हमलावरों के अंधाधुंध फायरिंग करते हुए दो लोगों की हत्या कर दी. जबकि छह अन्य लोग घायल हैं.

बताया जा रहा है कि नैनी जेल में बंद हत्या की सजा काट रहे कैदी चंद्रभान यादव से मिलकर लौट रहे, उसके बेटों पर रविवार को नैनी सेंट्रल जेल के ठीक बाहर बाइक और कार सवार शूटरों ने अंधाधुंध फायरिंग की.

इस हमले में चंद्रभान के बेटे ज्ञानचन्द्र समेत दो लोगों की मौत हो गई, जबकि दूसरे बेटे संतोष समेत छह अन्य लोग जख्मी हो गए. घायलों में दो की हालत गंभीर बनी हुई है.

पुलिस को घटनास्थल पर लाइसेंसी रायफल, पिस्टल और दर्जनों खोखे मिले हैं. वारदात के बारे में पुलिस ने बताया कि झूंसी के बच्चा यादव की हत्या के आरोप में पूर्व प्रधान चंद्रभान और बेटों को सजा हुई है.

चंद्रभान अभी इलाहाबाद की नैनी जेल में सजा काट रहा है, जबकि उसका एक बेटा राज कुमार बस्ती जेल में बंद है. वहीं दूसरा बेटा राजेश यादव पुलिस कस्टडी से फरार है.

तीसरा बेटा ज्ञानचन्द्र नाबालिग होने के आधार पर केस से रिहा कर दिया गया था. चौथा बेटा संतोष मामले में आरोपी नहीं था. रविवार को ज्ञानचन्द्र और संतोष पिता से मिलने नैनी जेल गए थे. उनके साथ करीब एक दर्जन से ज्यादा लोग भी थे.

कई संदिग्ध हिरासत में

पिता से जेल में मुलाकात के बाद दोपहर करीब साढ़े तीन बजे दो सफारी गाड़ियों से वो जा रहे थे. चंद्रभान के बेटे जैसे ही जेल परिसर से निकले, गेट पर घात लगाकर बैठे हुए हमलावरों ने फायरिंग कर दी.

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक चार बाइक और कार से पहुंचे हमलावरों ने फिल्मी स्टाइल में बम और गोलियों से चंद्रभान के बेटों पर हमला कर दिया. बम के हमले की वजह से सफारी गाड़ी का शीशा उड़ गया. घटना की सूचना मिलते ही नैनी पुलिस मौके पर पहुंच गई.

पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से घायलों को अस्पताल पहुंचाया. जहां डॉक्टर ने दो को मृत घोषित कर दिया. जबकि छह लोगों का गंभीर हालत में स्वरूपरानी और जीवन ज्योति अस्पताल में इलाज चल रहा है.

घटना के बाद डीआईजी जितेन्द्र शाही और एसएसपी जोगिन्दर कुमार कई थानों की पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे. दोनों अधिकारियों ने इस मामले में जांच के लिए एक विशेष टीम का गठन किया है. छापेमारी के बाद पुलिस ने कई संदिग्धों को हिरासत में लिया है और पूछताछ कर रही है.

First published: 6 June 2016, 11:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी