Home » इंडिया » Five district of poorvanchal comes on heel of power centre
 

देश की सत्ता की धुरी बने पूर्वांचल के पांच पड़ोसी जिले

निखिल कुमार वर्मा | Updated on: 6 July 2016, 6:59 IST

मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दूसरी बार अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया. मंत्रिमंडल के दूसरे विस्तार में 19 मंत्रियों ने शपथ ली है, जबकि प्रकाश जावेड़कर को प्रमोट कर कैबिनेट मंत्री बनाया गया.

इस विस्तार से साथ मोदी कैबिनेट में उत्तर प्रदेश से 14 मंत्री हो गए हैं. इस समय केंद्रीय मंत्रिमंडल में उत्तर प्रदेश से पीएम नरेंद्र मोदी सहित पांच कैबिनेट मंत्री, तीन स्वतंत्र प्रभार के राज्यमंत्री और छह राज्य मंत्री हैं. इसके अलावा मुख्तार अब्बास नकवी को जब केंद्र में मंत्री बनाया गया तो वह उत्तर प्रदेश से राज्यसभा से सांसद थे. हालांकि, पार्टी ने इस बार उन्हें झारखंड से राज्यसभा में भेजा है.

इस बार कैबिनेट विस्तार में उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल इलाके का खास ध्यान रखा गया है. दूसरे शब्दों में कहा जाए तो पूर्वांचल के पांच पड़ोसी जिले केंद्र में सत्ता की धुरी बन गए हैं. पीएम नरेंद्र मोदी खुद वाराणसी से सांसद हैं. अब वाराणसी के आस-पास के चार जिलों से केंद्र में मंत्री हो गए हैं. इसमें देवरिया से सांसद कलराज मिश्रा कैबिनेट मंत्री हैं, जबकि गाजीपुर से सांसद मनोज सिन्हा, मिर्जापुर से सांसद अनुप्रिया पटेल और चंदौली से सांसद महेंद्र  नाथ पांडेय राज्य मंत्री हैं.

अनुप्रिया पटेल, मिर्जापुर

उत्तर प्रदेश में गैर-यादव वोटों के मद्देनजर बीजेपी की सहयोगी पार्टी अपना दल की सांसद अनुप्रिया पटेल मंत्री बनाई गई हैं. मिर्जापुर से सांसद अनुप्रिया कुर्मी जाति से आती हैं. पूर्वांचल की कई सीटों पर उनके समुदाय की महत्वपूर्ण उपस्थिति है. अनुप्रिया पटेल के पिता सोनेलाल पटेल ने अपना दल की स्थापना की थी. लोक सभा चुनाव में अपना दल ने बीजेपी के साथ गठबंधन करके चुनाव लड़ा था. पार्टी के यूपी में दो सांसद विजयी हुए. हालांकि अनुप्रिया को बाद में अपना दल से निकाल दिया गया. 

डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय, चंदौली

पहली बार सांसद बने महेंद्र नाथ पांडे चंदौली से सांसद हैं. चंदौली देश के गृह मंत्री राजनाथ सिंह का पैतृक जिला है. हिंदी में एमए और डॉक्टरेट पांडेय उत्तर प्रदेश सरकार में कल्याण सिंह और राम प्रकाश गुप्ता के कार्यकाल में मंत्री भी रह चुके हैं. उन्हें राजनाथ सिंह का करीबी माना जाता है.

कलराज मिश्रा, देवरिया

75 वर्षीय कलराज मिश्रा उत्तर प्रदेश बीजेपी के वरिष्ठ नेता हैं. वह राज्य में पार्टी के प्रमुख ब्राह्मण चेहरा हैं. पिछला लोकसभा चुनाव उन्होंने देवरिया संसदीय सीट से जीता है. वे उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री और उत्तर प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष भी रह चुके हैं. वे अभी केन्द्रीय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री हैं.

मनोज सिन्हा, गाजीपुर

बीएचयू छात्रसंघ के अध्यक्ष रह चुके मनोज सिन्हा अभी केंद्रीय रेल राज्य मंत्री हैं. 57 वर्षीय सिन्हा 2014 में तीसरी बार गाजीपुर से लोकसभा सांसद चुने गए हैं.

यूपी से मंत्रियों की सूची

कैबिनेट मंत्री: नरेंद्र मोदी, राजनाथ सिंह, उमा भारती, कलराज मिश्रा, मेनका गांधी.

स्वतंत्र प्रभार: संतोष गंगवार, महेश शर्मा, वीके सिंह.

राज्य मंत्री: कृष्णा राज, मनोज सिन्हा, संजीव कुमार बालियान, अनुप्रिया पटेल, साध्वी निरंजन ज्योति, महेंद्र नाथ पांडेय.

First published: 6 July 2016, 6:59 IST
 
निखिल कुमार वर्मा @nikhilbhusan

निखिल बिहार के कटिहार जिले के रहने वाले हैं. राजनीति और खेल पत्रकारिता की गहरी समझ रखते हैं. बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से हिंदी में ग्रेजुएट और आईआईएमसी दिल्ली से पत्रकारिता में पीजी डिप्लोमा हैं. हिंदी पट्टी के जनआंदोलनों से भी जुड़े रहे हैं. मनमौजी और घुमक्कड़ स्वभाव के निखिल बेहतरीन खाना बनाने के भी शौकीन हैं.

पिछली कहानी
अगली कहानी