Home » इंडिया » Former cricketer Kirti Azad granted bail in defamation case
 

मानहानि मामले में पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद को जमानत मिली

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 September 2016, 11:17 IST

दिल्ली की एक अदालत ने भाजपा से निलंबित सांसद और पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद समेत दो अन्य को मानहानि के एक मामले में जमानत दे दी. यह मामला अंडर-19 क्रिकेटर के पिता ने उनके बेटे के विजय हजारे ट्रॉफी के लिये टीम में चयन होने को लेकर गलत इरादों से झूठी बयानबाजी करने के आरोप में दर्ज कराया था.

मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट हरविंदर सिंह ने आजाद, पूर्व क्रिकेटर सुरिंदर खन्ना और क्रिकेट से जुड़े समीर बहादुर में से प्रत्येक को 10,000 रुपये के निजी मुचलके पर राहत प्रदान की. अदालत ने इस बीच पूर्व क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी को निजी तौर पर पेश होने से छूट दे दी, जिन्हें इस मामले में आरोपी के रूप में समन भेजा गया था. उनके वकील ने बताया कि वह अस्वस्थ हैं और यहां हाजिर नहीं हो सकते हैं.

अदालत ने इस मामले में अगली सुनवाई की तारीख 16 नवंबर तय की है. साथ ही कोर्ट ने शिकायतकर्ता को आदेश दिया है कि, वो शिकायत से जुड़े सभी दस्तावेज कीर्ति आजाद को मुहैया कराए.

सुनवाई के बाद आजाद ने कहा कि वर्तमन और कई अन्य मामले उनके खिलाफ इसलिए दर्ज किये गए, क्योंकि उन्होंने दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) में भ्रष्टाचार का मामला उठाया जो कि कथित तौर पर केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली के इस क्रिकेट संस्था के अध्यक्ष के कार्यकाल के दौरान हुआ था. 

आजाद ने अदालत के बाहर कहा, "जिन्हें जेल में होना चाहिए था, वे मेरे खिलाफ मामला दर्ज करा रहे हैं. लेकिन मैं सभी चोरों को जेल भिजवाने के लिये प्रतिबद्ध हूं."

अदालत ने 11 जुलाई को आजाद, बेदी और दो अन्य को समन भेजा था. याचिकाकर्ता तेजबीर सिंह ने इससे पहले अदालत में कहा था कि आजाद, बेदी, खन्ना और बहादुर ने संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया था कि इस युवा क्रिकेटर के चयन के लिये 25 लाख रुपये का भुगतान किया गया.

First published: 10 September 2016, 11:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी