Home » इंडिया » former Maharashtra ATS chief Himanshu Roy commits suicide
 

महाराष्ट्र के पूर्व ATS चीफ हिमांशु रॉय ने खुद को गोली मारकर की खुदकुशी

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 May 2018, 16:04 IST

कई हाई प्रोफ़ाइल जांच के मामलों में शामिल रहे मुंबई पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी हिमांशु रॉय ने शुक्रवार को अपने घर पर खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है. हिमांशु रॉय वर्तमान में एडिशनल डायरेक्टर पद पर तैनात थे. ख़बरों के अनुसार रॉय लम्बे समय से कैंसर से पीड़ित थे और बीमारी से डिप्रेशन में थे.

रॉय ने अपने इलाज के लिए लंबी छुट्टी ली थी और वह साल 2016 से दफ्तर नहीं जा रहे थे.  ख़बरों के अनुसार 1988 बैच भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) अधिकारी ने कथित रूप से मुंबई में अपने घर पर 1.40 बजे अपने घर पर रिवाल्वर से खुद को गोली मारी, जिसके बाद उन्हें उसे अस्पताल ले जाया गया था.

हिमांशु रॉय ने 2013 के इंडियन प्रीमियर लीग स्पॉट फिक्सिंग, पल्लवी पुकारायस्थ की हत्या और जे डे हत्या सहित कई बड़े मामलों में जांच की थी. जबकि वह महाराष्ट्र आतंकवाद विरोधी दल (ATS) का नेतृत्व भी कर चुके थे. साल 2013 में हिमांशु रॉय ने आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में बिंदू दारा सिंह को भी गिरफ्तार कर लिया था.

उन्होंने लगभग दो दशकों तक मुंबई पुलिस के लिए दो सबसे महत्वपूर्ण कार्यालयों को संभाला था. रॉय 2010 से 2014 तक जॉइंट कमिश्नर क्राइम पद संभाला. इस अवधि के दौरान रॉय ने आईपीएल सट्टेबाजी घोटाले और लैला खान की हत्या जैसे कई मालों की जांच की.

इसके बाद उन्हें राज्य के आतंकवाद विरोधी दल (एटीएस) में स्थानांतरित कर दिया गया. इस कार्यकाल के दौरान रॉय ने बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स में अमेरिकी स्कूल को उड़ाए जाने की कथित तौर पर योजना बनाने के लिए सॉफ्टवेयर इंजीनियर अनीस अंसारी को गिरफ्तार कर लिया था.

ये भी पढ़ें : आंध्र प्रदेश: अमित शाह के काफिले पर पत्थर से हमला, BJP-TDP नेताओं में जमकर हाथापाई

First published: 11 May 2018, 15:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी