Home » इंडिया » Former President Pranab Mukherjee speech on rss tritiya varsh, congress appreciate
 

'प्रणब मुखर्जी ने संघ के कार्यक्रम में राष्ट्रवाद पर RSS को दिखाया आईना'

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 June 2018, 8:47 IST

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी द्वारा RSS के कार्यक्रम में शामिल होने का न्यौता स्वीकार करने का पहले कांग्रेस नेताओं ने जमकर विरोध किया था. लेकिन अब कांग्रेस पार्टी उनकी तारीफ कर रही है. प्रणब के भाषण के बाद कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति ने आरएसएस को उसके मुख्यालय में ही आईना दिखाने का काम किया है.

सूरजेवाला ने कहा कि प्रणब दा ने कहा है कि विविधता, सहिष्णुता और बहु-सांस्कृतिकवाद ही लोकतंत्र का भारतीय तरीका है. उनके इस भाषण ने आरएसएस को आईना दिखाने का काम किया है. सुरजेवाला ने कहा कि मुखर्जी ने आरएसएस को भारत का इतिहास याद दिलाया है. उन्होंने बताया है कि भारत की सुंदरता विचारों, धर्मों, भाषाओं की विविधता के प्रति सहिष्णुता में है. क्या आरएसएस सुनने को तैयार है?

 

बता दें कि 7 जून की शाम पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी आरएसएस के तृतीय वर्ष शिक्षा वर्ग के समापन समारोह में पहुंचे और संघ के संस्थापक केशव बलिराम हेडगेवार के जन्मस्थल पहुंचकर उनको श्रद्धांजलि भी दी. 

पढ़ें- RSS के कार्यक्रम में पहुंचे प्रणब मुखर्जी, थोड़ी देर में शुरू होगा भाषण

प्रणब मुखर्जी ने देश की संस्कृति और उसकी पहचान की विशेषता का उल्लेख करते हुए कई बातें कही. उन्होंने कहा कि मैं यहां पर राष्ट्र, राष्ट्रवाद और देशभक्ति पर बोलने आया हूं. उन्होंने कहा कि देश के लिए समर्पण ही देशभक्ति है. मुखर्जी ने कहा कि भारत के दरवाजे पहले से खुले हुए हैं. भारत खुला हुआ देश रहा है. 

First published: 8 June 2018, 8:36 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी