Home » इंडिया » Former SC Judge PC Ghose likely to be India's first Lokpal official announcement on monday says reports
 

SC के पूर्व जस्टिस पीसी घोष बन सकते हैं देश के पहले लोकपाल, सोमवार को होगी आधिकारिक घोषणा

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 March 2019, 16:10 IST
PC Ghosh

सूत्रों के हवाले से सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष देश के पहले लोकपाल हो सकते हैं और सोमवार को इसकी आधिकारिक घोषणा की जाएगी. इससे पहले बीते शुक्रवार को हुई बैठक में पीसी घोष के नाम पर सहमति जताई गई. प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता वाली चयन समिति ने उनके नाम पर मंजूरी दी थी. समिति में पीएम के अलावा चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई, अध्यक्ष सुमित्रा महाजन और एक अन्य ज्यूरी सदस्य शामिल हैं. 

लोकपाल की तलाश करने वाली समिति ने उनका नाम इस पद के लिए सबसे आगे चल रहे लोगों की लिस्ट में शॉर्टलिस्ट किया था. तो वहीं इस समिति में कांग्रेस के सीनियर लीडर मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम भी शामिल था लेकिन उन्होंने इस मीटिंग में हिस्सा नहीं लिया. पुंडुचेरी की ले. गवर्नर किरण बेदी ने लोकपाल की नियुक्ति पर खुशा जताते हुए ट्वीट किया और लिखा,"लोकपाल की घोषणा के बारे में जानकार बहुत खुशी हुई. यह देश की सभी भ्रष्टाचार विरोधी प्रणालियों को मज़बूत करेगा और सभी स्तरों पर सतर्कता के काम को बढ़ावा देगा. इस उद्देश्य का नेतृत्व करने और इस पर डटे रहने केलिए मैं अन्ना हज़ारे जी का धन्यवाद करना चाहूँगी. जय हिन्द."

PM मोदी सहित बीजेपी के इन नेताओं ने ट्विटर पर बदला अपना नाम, लिखा 'चौकीदार'

बता दें कि जस्टिस पीसी घोष का पूरा नाम पिनाकी चंद्र घोष है और वह मई 2017 में सुप्रीम कोर्ट से रिटायर हुए थे और इससे पहले जस्टिस घोष कोलकाता और आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रह चुके हैं. सुप्रीम कोर्ट से रिटायर होने के बाद वह जून 2017 से मानवाधिकार आयोग के वरिष्ठ सदस्यों में से एक हैं. 

Idea ने लॉन्च किया बड़ा ऑफर, 399 रुपये में करें इस ऑनलाइन प्लेटफॉर्म का साल भर फ्री Subscription

First published: 17 March 2019, 16:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी