Home » इंडिया » Four new Supreme Court judges to be sworn in today
 

सुप्रीम कोर्ट को मिले 4 नए जज, सुर्ख़ियों में रहे जस्टिस MR शाह भी शामिल

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 November 2018, 11:45 IST
(इंडियन एक्सप्रेस )

सुप्रीम कोर्ट के चार नए जज शुक्रवार को जस्टिस हेमंत गुप्ता, आर सुभाष रेड्डी, एम आर शाह और अजय रास्तोगी शपथ लेंगे. भारत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई नए न्यायाधीशों को शपथ दिलाएंगे. सुप्रीम कोर्ट में इन चार जजों की नियुक्ति के बाद न्यायाधीशों की कुल संख्या 28 हो जाएगी. सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम द्वारा उनको मंजूरी दे दी गई है.

जिसमें पांच सबसे वरिष्ठ न्यायाधीश - भारत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई और जस्टिस मदन बी लोकुर, कुरियन जोसेफ, ए के सीकरी और एस ए बॉबडे शामिल थे. न्यायमूर्ति गुप्ता मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश हैं, जबकि न्यायमूर्ति रेड्डी गुजरात उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायधीश हैं. न्यायमूर्ति शाह पटना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश हैं और न्यायमूर्ति रास्तोगी त्रिपुरा उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश हैं.

न्यायमूर्ति गुप्ता ने पंजाब के सामान्य वकील के रूप में कार्य किया है और जुलाई 2002 में उन्हें पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया गया था. उन्होंने पटना उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में भी कार्य किया है और मार्च 2017 में एमपी उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप नियुक्त किया गया. न्यायमूर्ति रेड्डी को दिसंबर 2002 में आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय के न्यायाधीश नियुक्त किया गया था.

एम आर शाह को 2004 में शाह को गुजरात उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया गया था. जस्टिस शाह ने इस साल अगस्त में पटना हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस बनने के बाद कहा वह तब सुर्ख़ियों में आये थे जब उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को लेकर कहा था कि 'वह एक हीरो हैं, एक मॉडल हैं'.

जस्टिस शाह का गुजरात से मध्यप्रदेश स्थानांतरण होने पर पर भी विवाद फंस गया था, जब 2016 में तब सीजीआई टीएस ठाकुर के नेतृत्व में कॉलेजियम ने शाह को मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय में स्थानांतरित करने की सिफारिश की थी, लेकिन मोदी सरकार औपचारिक रूप से इसे अस्वीकार किए बिना फाइल पर बैठी थी.

न्यूज़ वेबसाइट द प्रिंट की रिपोर्ट के अनुसार गुजरात स्थित वरिष्ठ वकील यतीन ओजा ने जस्टिस टीएस ठाकुर को लिखा था शाह को प्रधान मंत्री मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के निकट होने के कारण स्थानांतरित नहीं किया गया.

सरकार ने अंततः फाइल वापस कर दी जब ठाकुर सेवानिवृत्त हुए और उनके उत्तराधिकारी के रूप में जेएस खेहर ने नियुक्त हुए. शाह ने इस साल अगस्त में पटना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किए जाने तक गुजरात में नंबर 2 न्यायाधीश के रूप में सेवा जारी रखी.
ये भी पढ़ें : जानिए कौन हैं जस्टिस एमआर शाह  ?  

First published: 2 November 2018, 10:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी