Home » इंडिया » Gauri Lankesh murder case: SIT arrested state government employee for training the shooter
 

गौरी लंकेश हत्याकांड: SIT ने गिरफ्तार किया सरकारी कर्मचारी, गोली मारने की दी थी ट्रेनिंग

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 July 2018, 8:47 IST
(File photo)

राजेश के पास दो लाइसेंसी बंदूके थी. उस पर आरोप है कि उसने हिंदुत्व ग्रुप के कई लोगों को बन्दूक चलाने की ट्रेनिंग दी. SIT की टाफ से एसएसपी ने ये जानकारी दी. SIT के अनुसार राजेश ने एक बन्दूक को नष्ट करने की कोशिश करि ताकि सबूतों को मिटाया जा सके.

गौरतलब है कि पिछली रिपोर्ट्स के आधार पर ये साफ़ हो गया था कि गौरी लंकेश को गोली मारने वाला परशुराम वाघमारे है. इस पूरी साजिश को रचने वाला अमोल काले था. और हत्या करने के लिए हथियार मुहैया कराने वाला नवीन कुमार था. जानकारी के मुताबिक़ मोहन नायक नाम के व्यक्ति ने इन सभी को रहने के लिए अपना घर दिया था और बाकी की सुविधाएं भी मुहैया कराई थीं. हालांकि अभी जो 2 अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है उनका इस हत्याकांड में कितना हाथ है इस बात की पुष्टि अभी नहीं हो पाई है.

ये भी पढ़ें- क्या श्रीराम सेने का कार्यकर्त्ता है गौरी लंकेश को गोली मारने वाला शख्स ?

इस हत्याकांड मामले में कर्नाटक के गृहमंत्री जी परमेश्वर ने कहा है कि इस जांच के बारे में कुछ बताया नहीं जा सकता, लेकिन एक और गिरफ्तारी के बाद ये गुत्थी सुलझ सकती है और ये केस बंद किया जा सकता है. शायद यही वो आखिरी गिरफ्तारी हो सकती है जिसके बारे में गृहमंत्री ने कहा था.

ये भी पढ़ें- गौरी लंकेश हत्याकांड : 'मुझसे कहा गया, धर्म को बचाने के लिए मुझे किसी को मारना है'

First published: 25 July 2018, 8:47 IST
 
अगली कहानी