Home » इंडिया » General Bipin Rawat says Balakot Air Strike was to ensure terrorists do not carry out action against India
 

बालाकोट एयरस्ट्राइक पर थल सेनाध्यक्ष विपिन रावत का बड़ा खुलासा, बोले- आतंकियों के पूरे खात्मे..

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 May 2019, 12:17 IST

पुलवामा में सीआरपीएफ कैंप में हुए आतंकी हमले के बाद भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान स्थित आतंकी कैंपों पर एयर स्ट्राइक की थी. इसे लेकर आर्मी चीफ बिपिन रावत ने अब कई खुलासे किए हैं. 
सेनाध्यक्ष बिपिन रावत ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया कि फरवरी में बालाकोट में एयर स्ट्राइक यह सुनिश्चित करने के लिए की गई थी, ताकि पाकिस्तान से प्रशिक्षण प्राप्त आतंकी भारत के खिलाफ फिर से हमला करने के लिए जीवित न बचें. 

जनरल बिपिन रावत ने बताया कि सीमा पार के आतंकवाद से लड़ने के लिए विभिन्न एजेंसियों द्वारा बेहतर तालमेल से काम किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि यहां हालात काबू में कर लिया गया है. जनरल रावत ने बताया, "विभिन्न सरकारी एजेंसियों के समन्वित प्रयासों के जरिए अब एनआईए ने दखल दिया है.. प्रवर्तन निदेशालय ने दखल दिया है.. और सभी यह सुनिश्चित करने की कोशिश कर रहे हैं कि आतंकवादियों को उपलब्ध वित्तपोषण और धनराशि बिल्कुल खत्म कर दी जाए." 

सेनाध्यक्ष 264 प्रशिक्षुओं के पासिंग आउट परेड के बाद मीडियाकर्मियों से बातचीत कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत आजादी के बाद से ही आतंकवाद का सामना कर रहा है. आतंकवाद का भारतीय सुरक्षा बल एवं उनका समर्थन कर रही सभी एजेंसियां डटकर मुकाबला कर रही हैं. हम यह सुनिश्चित करने में सफल रहे हैं कि आतंकवाद पर काबू पाया जाए. कश्मीर घाटी में आतंकवाद में हम निश्चित तौर पर उतार-चढ़ाव देखते रहे हैं.

पीएम मोदी की रडार वाली टिप्पणी पर जनरल रावत ने कहा, "कुछ रडार अपने काम करने के तरीके के कारण बादलों के पार नहीं देख पाते. अलग-अलग प्रौद्योगिकी से काम करने वाले अगल-अलग रडार हैं. कुछ बादलों के पार देखने की क्षमता रखते हैं तो कुछ में यह क्षमता नहीं होती."

बंगाल में चुनाव बाद भी नहीं रुकी हिंसा, BJP के एक और कार्यकर्ता की हत्या, भिड़े भाजपा-टीएमसी कार्यकर्ता

मोदी 2.0 में इन मंत्रियों के छिन सकते हैं मंत्रालय, पहली बार जीते नेताओं को मिल सकता है इनाम

First published: 27 May 2019, 12:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी