Home » इंडिया » Ghaziabad gang rape: delhi police crime branch reached madarsa bjp leaad candle march from central secretariat
 

गाजियाबाद गैंगरेप मामला: मदरसे पहुंची दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच, मौलवी से की पूछताछ

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 April 2018, 7:43 IST

गाजियाबाद मदरसा गैंगरेप मामले में जल्द कार्रवाई की मांग को लेकर बीजेपी ने केंद्रीय सचिवालय से इंडिया गेट तक कैंडल मार्च निकाला. बीजेपी ने इस घटना में शामिल मौलवी और साथियों की जल्द गिरफ़्तारी की मांग की. गौरतलब है कि केंद्र और राज्य दोनों जगह बीजेपी की ही सरकार है.

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने मदरसे का मुआयना किया और मौलवी से पूछताछ अभी जारी है. बीजेपी सांसद महेश गिरी भी कैंडल मार्च में शामिल हुए और उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाओं में धर्म नहीं आना चाहिए.

उन्होंने कहा कि आरोपी मौलाना और उसके साथियों की जल्द गिरफ्तारी होनी चाहिए और पुलिस को मदरसे को सील करना चाहिए. हालांकि सवाल ये उठ रहा है कि यूपी और केंद्र दोनों ही जगह बीजेपी की सरकार है, तो फिर क्यों कार्रवाई की मांग को लेकर बीजेपी नेता कैंडल मार्च कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें- आसाराम की 'कुकर्म कथा' की पूरी टाइमलाइन...

क्या है पूरा मामला

दिल्ली के गाजीपुर की रहने वाली करीब 11 साल की नाबालिग लड़की की किडनैपिंग और रेप का मामला सामने आया है. लड़की 21 तारीख की शाम को अचानक गाजीपुर के अपने घर के पास से लापता हो गई थी. घरवालों ने बच्ची को बहुत ढूंढा लेकिन वो नहीं मिली. इसके बाद परिजनों ने उसी शाम गाजीपुर पुलिस को घटना की सूचना दी. पुलिस फोन सीडीआर की मदद से लड़की तक पहुंची और पाया की लड़की गाजियाबाद के एक मदरसे में है.

 

गाजियाबाद और दिल्ली पुलिस ने रेड की और लड़की को उस मदरसे से बरामद किया. साथ ही मदरसे के मौलवी और 17 साल के एक नाबालिग लड़के को अपने साथ पूछताछ के लिए थाने ले आई. पुलिस को लड़की की सीसीटीवी फुटेज भी मिली थी जिसमे वो लड़के के साथ जाते हुए दिख रही थी.

सोमवार को लड़की ने कोर्ट में बताया की उसे 17 साल का नाबालिग लड़का अपने साथ गाजियाबाद के अर्थला इलाके के मदरसे में ले गया था. पुलिस ने लड़की की मेडिकल जांच भी करवाई जिसके बाद पॉक्सो एक्ट के तहत और रेप का केस दर्ज किया गया. आरोपी नाबालिग लड़के को बाल सुधार गृह भेज दिया गया है.

फिलहाल लड़की के परिवार का कहना है की उनकी बेटी के साथ गैंग रेप हुआ है. परिजनों ने आरोप लगाया कि मदरसे के अंदर मौलवी और अन्य लोगों ने उसके साथ गैंग रेप किया है और उन सभी लोगो की गिरफ्तारी होनी चाहिए. तीन दिन से गाजीपुर थाने में इस घटना के बाद प्रदर्शन भी किया जा रहा है. स्थानीय पुलिस से ये केस क्राइम ब्रांच को ट्रांसफर कर दिया गया है. मौलवी के रोल की भुमिका की जांच की जा रही है.

दिल्ली पुलिस के ज्वाइंट सीपी रविन्द्र यादव ने बताया कि लड़की को एक दिन के लिए मदरसे में रखा गया था. आरोपी नाबालिग लड़का भी मदरसे में पढ़ता करता है. फिलहाल मदरसे के मौलवी से पूछताछ जारी है. क्राइम ब्रांच के डीसीपी और बाकी अफसरों की टीम मदरसा पहुचीं थी.

First published: 26 April 2018, 7:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी