Home » इंडिया » Ghaziabad maulvi arrested under POCSO act, ajai shiv sena people vandalised maulvi house
 

मदरसा रेप केस: मौलाना के घर तोड़फोड़, लगाए सांप्रदायिक नारे

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 April 2018, 9:28 IST

मदरसा रेप केस में आरोपी मौलवी को दिल्ली पुलिस ने POCSO एक्ट के तहत 27 अप्रैल को गिरफ्तार कर लिया गया है. जानकारी के अनुसार 10 साल की मासूम के साथ मदरसे के भीतर रेप किया गया था. पुलिस रेप के आरोपी को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है.

इस मामले को लेकर पुलिस का कहना है कि मौलवी से पूछताछ की जा रही है. पुलिस इस पूछताछ में लगी है कि जब बच्ची के मदरसे में होने की खबर मौलवी को थी या नहीं? एसटीएफ की क्राइम ब्रांच टीम ने मौलवी को पोक्सो एक्ट के सेक्शन 21(2) के तहत गिरफ्तार किया गया है.

रिपोर्ट के मुताबिक शुक्रवार के दिन गाजियाबाद स्थित मौलवी के घर के बाहर कुछ लोग इकट्ठा हुए और घर का दरवाजा तोड़ दिया. घर के अन्य हिस्सें में तोड़फोड़ की गई. सांप्रदायिक नारे लगाए गए. मौलवी की पत्नी चार दिन पहले ही ताला लगाकर अपने माता-पिता के घर जा चुकी है.

पत्नी का आरोप है कि सुबह करीब 11 बजे वह अपनी मां के घर नमाज पढ़ रही थीं तब उनके घर में तोड़फोड़ की गई. मां का घर मौलवी के घर के आसपास ही है. मौलवी की पत्नी का कहना है कि उनके पति बेगुनाह हैं लेकिन कुछ लोगों और मीडिया का कहना है कि पति ने ही यह अपराध किया है.

एसएचओ राकेश कुमार सिंह ने बताया कि मौलवी के घर के बाहर करीब 100 लोग पहुंचे थे. इसमें ज्यादातर महिलाएं थीं. भीड़ का दावा था कि वो नई पार्टी अजय शिव सेना के सदस्य हैं. हमारी फोर्स मदरसे के बाहर तैनात थी. यह जगह मौलवी के घर से करीब 500 मीटर की दूरी पर है. पत्नी का दावा है कि उन्होंने पांच महीने पहले ही नया मकान बनाया था. हालांकि परिवार पिछले पांच सालों से इसी इलाके में रहता आया है.

मदरसा भी मौलवी का बनाया हुआ है. पत्नी का यह भी दावा है कि जिस पुलिस ने जिस वक्त बच्ची को बरामद किया तब तब आस-पड़ोस में भी उनके पति नहीं थे. भाजपा विधायक सुनील कुमार शर्मा ने राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ को पत्र लिखकर कहा है कि मदरसा गैरकानूनी गतिविधियों का केंद्र बन चुका था. इसलिए इसे सील किया जाना चाहिए.

 

First published: 28 April 2018, 9:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी