Home » इंडिया » Giriraj singh on madarsa rape case says jinna supporters protest against kathua rape, rahul is like Asaduddin Owaisi
 

'मदरसा रेप पर जिन्ना के समर्थक चुप, ओवेसी जैसी है राहुल की मानसिकता'

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 April 2018, 13:09 IST

गाजियाबाद मदरसे में हुए रेप केस पर सियासी माहौल गर्म होता जाता है. अब मदरसा रेप केस में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने सवाल उठाया है. रेप जैसे जघन्य अपराध को लेकर सियासत इस तरह फैली है की गिरिराज ने कहा कि मोहम्मद अली जिन्ना के समर्थक जब कठुआ गैंगरेप के मामले में सड़कों पर उतर जाते थे और मोमबत्तियां जलाते थे तो आज वह गीता के मामले को लेकर चुप क्यों हैं? गिरिराज ने कहा कि जिन्ना के समर्थक देश को बांटने की साजिश रच रहे हैं.

वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा वंदे मातरम राष्ट्रगीत का सम्मान नहीं करने को लेकर गिरिराज सिंह ने कहा कि उनकी मानसिकता भी एम आई एम मुखिया असदुद्दीन ओवैसी के जैसी है क्योंकि वह भी राष्ट्रीय गीत और राष्ट्रगान का सम्मान नहीं करते हैं.

ये भी पढ़ें- सजा के दो दिन बाद ही Facebook पर Live आया बलात्कारी आसाराम

गिरिराज सिंह ने कहा कि इस देश को लोगों ने बांटने की पूरी साजिश बना ली है. कुछ लोग जिन्ना के प्रतिनिधि बनकर जब देश में कठुआ मामला होता है तो लोग उसमें धार्मिक संप्रदाय और धार्मिक उन्माद देखा जाता है और एक ही बार शहरों में लोग टी-शर्ट पहनकर दिखाई देते हैं.

गाजियाबाद रेप के मामले में तंज कसते हुए उन्होंने कहा, ''लोगों के आंसू कहां गुम हो जाते हैं और उनके मोमबत्ती कहां गुम हो जाते हैं जब गीता नाम की एक लड़की का मदरसे में बलात्कार होता है. पता नहीं लोगों की जुबान क्यों बंद हो जाती है, ना बहस होती है और ना रोड पर निकलते हैं. यह देश के लिए घातक सूचक है.''

 

गिरिराज ने कहा कि ऐसे लोग गलतफहमी में ना रहें कि उनकी जुबान तगड़ी जुबान है और बाकियों की चुप जुबान है. मैं निवेदन करना चाहूंगा जो जिन्ना के समर्थक है वह अपना समर्थन अपने अंदर रखें. भारत में उनके समर्थन के मंसूबे कभी पूरे नहीं होंगे.

राहुल गांधी पर वार करते हुए गिरिराज ने कहा, ''असदुद्दीन ओवैसी कभी भी राष्ट्रीय गान का कभी सम्मान नहीं करते और मुझे आज के दिन असदुद्दीन ओवैसी और राहुल गांधी की मानसिकता में समानता दिख रही है.''

First published: 28 April 2018, 13:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी