Home » इंडिया » Goa cm manohar parrikar afraid that girls are drinking beer says i am fear as even girls have started drinking beer
 

लड़कियों के बीयर पीने से डरे मनोहर पर्रिकर ने कहा- 'अब सब्र की हद खत्म'

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2018, 15:51 IST

लड़कियों का बीयर या शराब का सेवन करना गोवा के मुख्यमंत्री को नहीं भा रहा है. उन्होंने कहा कि अब सब्र की हद खत्म हो रही है. राज्य विधानमंडल विभाग की ओर से किए जाने वाली राज्य युवा संसद में पर्रिकर ने कहा, "मैं सबकी बात नहीं कर रहा हूं, मैं उनकी बात भी नहीं कर रहा हूं जो यहां सामने बैठे हैं." हालांकि, उन्होंने भरोसा जताया कि नशीले पदार्थों का राज्य के कॉलेजों में बहुत चलन नहीं है.

पर्रिकर ने गोवा में होने वाले नशीले पदार्थों के कारोबार पर कहा, "अपराधियों की धर-पकड़ जारी है. यह तब तक जारी रहेगी जब तक यह कारोबार पूरी तरह खत्म नहीं हो जाता. हालांकि, मुझे भरोसा नहीं है कि यह पूरी तरह से खत्म हो पाएगा." उन्होंने कहा, "मुझे निजी तौर पर भरोसा है कि कॉलेजों में नशीले पदार्थों का बहुत ज्यादा प्रसार नहीं है."

पर्रिकर ने कहा, "अगर पकड़ी गई ड्रग्स की मात्रा कम है तो कानूनन दोषी को 8 से 15 दिन या एक महीने में जमानत मिल जाती है. हमारे कोर्ट इस मामले में नरमी बरतते हैं, लेकिन कम से कम वे पकड़े तो जाते हैं." सीएम ने बताया कि जबसे गोवा में पुलिस को ड्रग्स का कारोबार करने वालों पर कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया, तब से 170 लोगों को अरेस्ट किया जा चुका है.

उन्होंने बेरोजगारी पर कहा कि आजकल युवा कड़ी मेहनत करने से बचते हैं. यही वजह है कि लोवर डिवीजन क्लर्क (एलडीसी) की नौकरियों के लिए लंबी कतार लगी रहती है. पर्रिकर ने कहा कि लोगों की यह सोच है कि सरकारी नौकरी, मतलब कोई काम नहीं.

पर्रीकर ने अपने छात्र जीवन की एक घटना का जिक्र करते हुए कहा कि जब मैं आइआइटी में था तो वहां एक समूह था जो गांजे का नशा करता था, तो यह कोई नई घटना नहीं है. उस समय कुछ छात्रों पर अश्लील फिल्मों का जुनून सवार था.

First published: 10 February 2018, 15:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी