Home » इंडिया » Gold digging on the hills of Sonbhadra, 400 tribal families will be homeless
 

सोनभद्र की जिन पहाड़ियों पर होगी सोने की खुदाई, 400 आदिवासी परिवार हो सकते हैं बेघर

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 February 2020, 19:10 IST

Gold In Sonbhadra: उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) के सोनभद्र(Sonbhadra) में जमीन के नीचे अकूत सोने(Gold) का भंडार मिलने की सूचना है. सोनभद्र की जिन दो पहाड़ियों में करीब तीन हजार टन सोना होने की पुष्टि हुई है, उन पहाड़ियों के इर्द-गिर्द चार सौ से ज्यादा आदिवासी परिवार बसे हुए हैं. अब इन आदिवासियों को अभी से बेघर होने का डर सताने लगा है.

जियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया ने सोनभद्र जिले में सोन पहाड़ी और हरदी पहाड़ी के बीच तीन हजार टन से ज्यादा सोना होने की पुष्टि की थी. इसके बाद यहां ई-टेंडरिंग की सरकारी प्रक्रिया शुरू हो गई है.

खादानों से सोने निकलने की खबर से देश-दुनिया में सोनभद्र का नाम सबसे ऊपर आ गया है, लेकिन दूसरा पहलू यह है कि पनारी गांव पंचायत के ढाई सौ परिवार और हरदी पहाड़ी में हरदी, पिंडरा दोहर व पिपरहवा गांव के कई सौ आदिवासी परिवार बेघर हों जाएंगे.

बता दें कि सोनभद्र आदिवासी बहुल इलाका है. यहां बैगा और गोंड़ जाति के आदिवासी रहते हैं, ये कृषि एवं जंगली जानवरों के शिकार के जरिये अपना जीवन-यापन करते हैं. अगर इन्हें बेघर होना पड़ा तो इन्हें झोपड़ी के अलावा अपनी बीघे-दो बीघे जमीन से भी हाथ धोना पड़ेगा.

ग्राम पंचायत पंडरक्ष के पूर्व ग्राम प्रधान बताते हैं कि ग्राम पंचायत क्षेत्र में हरदी, पिंडरा दोहर और पिपरहवा गांव आते हैं. ज्यादातर बैगा और गोंड आदिवासी समुदाय के लोग यहां रहते हैं. ये सभी गांव हरदी पहाड़ी के तीन तरफ बसे हैं. उन्होंने बताया कि खुदाई से जरूर आदिवासियों को विस्थापित किया जाएगा.

PM मोदी की योजना को उनकी ही पार्टी के सांसद लगा रहे पलीता, निर्देश के बाद भी नहीं मान रहे बात

सिर्फ NSG कमांडो ही नहीं जानवरों के पास भी होगा ट्रंप की सुरक्षा का जिम्मा, लंगूरों को मिला ये काम

First published: 22 February 2020, 19:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी