Home » इंडिया » Google makes doodle of India’s first female mla Muthulakshmi reddy
 

जानिए कौन थीं देश की पहली महिला विधायक, गूगल ने बनाया जिनका डूडल

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 July 2019, 13:18 IST

गूगल ने मंगलवार देश की पहली महिला विधायक मुथुलक्ष्मी रेड्डी का डूडल बनाया. दरअसल, आज यानि मंगलवार को मुथुलक्ष्मी रेड्डी का 133वां जन्मदिन है. इस मौके पर गूगल ने उनका डूडल बनाकर याद किया है. वह भारत की पहली महिला विधायक होने के साथ-साथ शिक्षक, सर्जन और समाज सुधारक थीं. डॉ. मुथुलक्ष्मी पहली ऐसी छात्रा थीं जिन्होंने महाराजा कॉलेज और मद्रास कॉलेज जैसे इंस्टिट्यूट में एडिशन लिया था. उन्होंने सामाजिक असमानता, लिंग आधारित असमानता और आम जनता को पर्याप्त स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने की दिशा तमाम काम किए.

उन्होंने अपना पूरा जीवन समाज सुधार में लगा दिया. उन्हें देश की पहली महिला विधायक होने का गौरव भी प्राप्त है. इसके अलावा उन्हें सामाजिक असमानता, लोगों को पर्याप्त स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने की कोशिशों के लिए भी जाना जाता है. बता दें कि वह तमिलनाडु के सरकारी अस्पताल में सर्जन के रूप में काम करने वाली पहली महिला भी रही थीं.

उनके जन्मतिन 30 जुलाई पर 'हॉस्पिटल डे' मनाने की तमिलनाडु सरकार ने सोमवार को घोषणा की थी. उनका जन्म साल 30 जुलाई 1886 में तमिलनाडु के पुडुक्कोट्टाई में हुआ था. वह 1912 में देश की पहली महिला डॉक्टर बनीं और मद्रास के सरकारी मातृत्व अस्पताल में पहली महिला सर्जन भी थीं. डॉ. रेड्डी 1918 में महिला इंडियन एसोसिएशन की सह-स्थापना की और मद्रास विधान परिषद की पहली महिला सदस्य के साथ साथ पहली महिला विधायक बनीं.

इसके अलावा डॉ. मुथुलक्ष्मी रेड्डी ने लड़कियों की शादी रोकने के लिए नियम बनाए. साथ ही उनकी अनैतिक तस्करी नियंत्रण अधिनियम और देवदासी प्रथा उन्मूलन विधेयक पारित करने के लिए परिषद से आग्रह किया. अपने महान योगदान के लिए उन्हें 1956 में पद्मभूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया. 1968 में 22 जुलाई को चेन्नई में उनका निधन हो गया.

'37 साल की कड़ी मेहनत से 30 हजार नौकरियां दी... लेकिन अब मैं हार चुका हूं'

First published: 30 July 2019, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी