Home » इंडिया » Google workers calls a world wide walkout from office in a protest against giving 9 crore to Andy Rubin
 

क्या दुनिया भर में ठप्प हो जाएगा Google?

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 November 2018, 14:09 IST

गूगल के लगभग 1,500 कर्मचारियों ने दुनियाभर में कंपनी के कार्यालयों से वॉकआउट की योजना बनाई है.कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगने के बाद उसका इस्तीफा लेकर नौ करोड़ डॉलर का पैकेज देने से गुस्साए कर्मचारियों ने वॉकआउट का फैसला किया है. एंड्रॉयड के संस्थापक एंडी रुबिन पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगे थे, जिसके चलते उन्होंने कंपनी तो छोड़ी लेकिन उन्हें 9 करोड़ डॉलर का रिलीविंग पैकेज भी दिया.

जबकि कंपनी इस तरह के आरोप में बर्खास्त अन्य कर्मचारियों को किसी तरह का कोई रिलीविंग पैकेज नहीं देती. गूगल ने पिछले सप्ताह बताया था कि कंपनी ने 2016 के बाद से कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न के आरोपों में 48 लोगों को बर्खास्त किया है.


न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, 1,500 से अधिक लोगों ने दुनियाभर की दो दर्जन कंपनियों के कार्यालय से वॉकआउट की योजना बनाई. इनमें से अधिकतर महिलाएं हैं. गूगल के यूट्यूब की प्रॉडक्ट मार्किटिंग मैनेजर क्लेयर स्टैप्लेटन (33) ने कहा, "हम यह महसूस होना नहीं चाहते कि हम असमान है और हमारा सम्मान नहीं किया जाता."

गूगल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुंदर पिचाई ने पिछले सप्ताह अपने कर्मचारियों को लिखे पत्र में कहा था कि कंपनी कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न के मामलों पर सख्ती से काम कर रही है. यह पत्र न्यूयॉर्क टाइम्स में उस रिपोर्ट के जारी होने के बाद लिखा गया, जिसमें कहा गया था कि एंड्रॉयड के संस्थापक एंडी रुबिन पर उत्पीड़न के आरोप लगने के बाद कंपनी से उनको चलता कर देने पर भी उन्हें नौ करोड़ डॉलर का पैकेज दिया गया.

ये भी पढ़ें- #MeToo: यौन उत्पीड़न के आरोप में Google ने 13 सीनियर्स के साथ 48 कर्मचारियों को किया नौकरी से बाहर

क्या है मामला
न्यू यॉर्क टाइम्स में छपी एक खबर के अनुसार कंपनी पर ये आरोप लगाया गया था कि एंड्रायड के जनक एंडी रूबिन को कंपनी ने 9 करोड़ डॉलर का एक्जिट पैकेज देकर नौकरी से विदा किया जबकि उन पर भी यौन उत्पीड़न का आरोप लगा था. लेकिन वहीं पर यौन उत्पीड़न के आरोप में निकाले गए कंपनी के दूसरे कर्मचारियों को कोई भी एक्जिट पैकेज नहीं दिया गया.

इस मामले में सवाल उठने पर पिचाई ने जवाब देते हुए कहा है कि एंडी रूबिन पर जो रिपोर्ट जारी हुई थी उसे समझना कठिन है. लेकिन गूगल ऑफिस में कर्मचारियों के लिए बेहतर माहौल बनाने के लिए प्रयास करता रहेगा. इस मामले में अभी तक गूगल ने कई बड़े एक्शन भी लिए हैं.

First published: 1 November 2018, 14:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी