Home » इंडिया » Gorkhaland protesters torched vehicle of police and community centre set on fire
 

गोरखालैंड की 'आग': आंदोलनकारियों ने पुलिस की गाड़ी और सामुदायिक केंद्र फूंका

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 July 2017, 11:05 IST

अलग गोरखालैंड राज्य की मांग को लेकर गोरखा जनमुक्ति मोर्चा द्वारा आहूत अनिश्चितकालीन बंद बुधवार को 35वें दिन भी जारी रहा, जिस दौरान एक बार फिर उत्तरी पश्चिम बंगाल के पहाड़ी इलाके में हिंसा और तोड़फोड़ की घटनाएं हुईं. अलग गोरखालैंड राज्य के समर्थन में एक रैली के बाद दार्जिलिंग के जज बाजार इलाके में बुधवार दोपहर एक पुलिस वाहन में तोड़फोड़ की गई और उसे आग के हवाले कर दिया गया.

पुलिस अधीक्षक अखिलेश कुमार चतुर्वेदी ने आईएएनएस से कहा, "जज बाजार इलाके के निकट बदमाशों ने पुलिस के एक वाहन को फूंक दिया. पुलिस तथा रैली करने वाले लोगों के बीच कोई कहासुनी या झड़प नहीं हुई थी. हम अपराधियों की तलाश कर रहे हैं." उन्होंने कहा, "शहर में सुबह से लेकर अब तक तोड़फोड़ की और कोई बड़ी वारदात सामने नहीं आई है." रसियॉन्ग इलाके में देर मंगलवार को राज राजेश्वरी हॉल नामक सौ साल पुराने बंगाली सामुदायिक केंद्र को आग के हवाले कर दिया गया.

दार्जिलिंग में हिंसा, आगजनी तथा सरकारी संपत्तियों पर लगातार हमलों की निंदा करते हुए राज्य के पर्यटन मंत्री गौतम देब ने दावा किया कि तोड़फोड़ यह बताने के लिए की गई है कि जीजेएम क्षेत्र में शांति की किसी प्रक्रिया के खिलाफ है. इस बीच, अलग राज्य की मांग को लेकर जीजेएम ने पहाड़ी इलाके के विभिन्न हिस्सों में रैलियां निकालीं. दार्जिलिंग इसका केंद्र बिंदु रहा.

First published: 20 July 2017, 11:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी