Home » इंडिया » Grand alliance in Telangana: Congress, TDP, Left form grand alliance to fight Telangana election
 

तेलंगाना में महागठबंधन, TRS को हराने के लिए कांग्रेस,TDP और लेफ्ट आये एक साथ

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 September 2018, 11:22 IST

तेलंगाना में तीन विपक्षी दल कांग्रेस, तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) ने मंगलवार को तेलंगाना राष्ट्र समिति को हराने के एकमात्र उद्देश्य के साथ 'महा कुटामी' (महागठबंधन) की घोषणा की. यह पहली बार है कि जिस टीडीपी की स्थापना 1982 में कांग्रेस विरोध पर की गई थी वह कांग्रेस पार्टी के साथ हाथ मिलाएगी. हालांकि सीपीआई ने अतीत में दोनों पार्टियों के साथ सहयोग किया है.

मंगलवार को तेलंगाना में तीन विपक्षी दलों के प्रमुख, प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीसीसी) के अध्यक्ष कप्तान एन उत्तम कुमार रेड्डी, तेलंगाना टीडीपी अध्यक्ष एल रामाणा और सीपीआई के राज्य सचिव चाडा वेंकट रेड्डी ने शहर के बंजारा हिल्स क्षेत्र के एक होटल में लगभग चार घंटे तक अपनी पार्टी के अन्य नेताओं के साथ गठबंधन पर चर्चा की. 

पीसीसी अध्यक्ष ने चर्चा के बाद कहा "हमने आगामी चुनावों के लिए एक महागठबंधन या महा कुट्टीमी बनाने के सिद्धांत में फैसला किया है. हम तेलंगाना जन समिति और सीपीआई (एम) जैसे गठबंधन में अन्य समान विचारधारा वाले दलों के साथ भी बात कर रहे हैं. हालांकि कुछ समय के लिए कांग्रेस और टीडीपी के बीच संभावित गठबंधन की बात हुई है, लेकिन मंगलवार को पहली बार दोनों पक्षों के नेता बातचीत के लिए बैठे.

8 और 9 सितंबर को हैदराबाद की यात्रा के दौरान तेलंगाना टीडीपी के नेताओं ने पार्टी अध्यक्ष और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू के साथ चर्चा की. एक रिपोर्ट के अनुसार टीडीपीकम से कम 25-30 सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए उत्सुक है.

बीजेपी और टीआरएस ने कांग्रेस और टीडीपी के बीच गठबंधन को अपवित्र बताया. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ के लक्ष्मण ने कहा ''टीडीपी कांग्रेस विरोधी सिद्धांत के खिलाफ जा रही थी जिस पर इसकी स्थापना हुई थी.यह पूरी तरह से एक अवसरवादी गठबंधन है."

वरिष्ठ टीआरएस नेता और राज्य विधानसभा के पूर्व डिप्टी स्पीकर पद्म देवेंद्र रेड्डी ने कहा कि लोग किसी भी परिस्थिति में टीडीपी-कांग्रेस गठबंधन को स्वीकार नहीं करेंगे. "महा गठबंधन में जितनी पार्टियां हो सकती हैं उतने पार्टियां जाएं. हम डरते नहीं हैं''. उन्होंने कहा कि टीआरएस भारी जनादेश के साथ सत्ता में वापस आएगी.

ये भी पढ़ें : गुजरात: CM रुपाणी के ऑफिस विज्ञापन पॉलिसी पर बात करने गए 35 पत्रकार लिए गए हिरासत में

First published: 12 September 2018, 11:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी