Home » इंडिया » Grandson Ranjeet Savarkar says Indira Gandhi honored Veer Savarkar by Postal stamp
 

'इंदिरा गांधी भी करती थीं सावरकर को फॉलो, सम्मान में जारी किया था डाक टिकट'

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 October 2019, 13:15 IST

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में विनायक दामोदर सावरकर को भारत रत्न देने की मांग की. इसके बाद राजनीतिक हलकों में बवाल मच गया. इसके बाद भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने एक ट्वीट कर सावरकर से पूर्व प्रधानमंत्री और कांग्रेस की दिग्गज नेता इंदिरा गांधी को भी मामले में शामिल कर लिया है. 

अमित मालवीय ने ट्वीट किया, "कांग्रेस पार्टी ने काफी पहले ही महात्मा गांधी के मूल्यों को छोड़ दिया है, लेकिन इंदिरा गांधी के बारे में उनकी क्या राय है, जिन्होंने वीर सावरकर को एक महान क्रांतिकारी के रूप में देखा? क्या कांग्रेस ने इंदिरा को सिर्फ इसलिए छोड़ दिया क्योंकि यह उनके मौजूदा नेतृत्व की संकीर्ण राजनीति को सूट नहीं करतीं."

इसके बाद वीर सावरकर के पोते रंजीत सावरकर ने भी इंदिरा गांधी को लेकर ये बातें कहीं. रंजीत सावरकर ने कहा, इंदिरा गांधी वीर सावरकर का सम्मान करती थीं, मुझे महसूस होता है कि वह उनका अनुसरण भी करती थीं, क्योंकि वह पाकिस्तान को घुटनों पर ले आयीं थी, उन्होंने सेना को मजबूत किया और विदेशी संबंधों को दृढ़ता दी. उन्होंने परमाणु परीक्षण भी किया. यह सब नेहरु और गांधी की विचारधारा के खिलाफ था."

दरअसल, AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने सावरकर को देश के बंटवारे और हिटलर का समर्थक करार दिया था. इस पर सावरकर के पोते रंजीत ने उन्हें जवाब दिया. रंजीत ने कहा कि ओवैसी उनके दादा से ज्यादा धर्मनिरपेक्ष व्यक्ति नहीं खोज पाएंगे.

रंजीत ने कहा, "ओवैसी को सावरकर की इस सोच का पालन करना चाहिए कि धर्म को अपने घर में रखें. जब बाहर निकलें तो आप हिंदू या मुसलमान नहीं, भारतीय हैं. सावरकर चाहते थे कि जो भी संसद में प्रवेश करे वो जाति, धर्म, लिंग आदि को बाहर रखे. आप सावरकर से ज्यादा धर्मनिरपेक्ष इंसान नहीं खोज पाएंगे."

पाकिस्तान की बड़ी हरकत, F-16 लड़ाकू विमानों से किया भारतीय जहाज का पीछा, 120 यात्रियों थे सवार

BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली नहीं दे पाए इस सवाल का जवाब, तो बोले- मुझसे नहीं PM मोदी से पूछेंं

First published: 18 October 2019, 13:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी