Home » इंडिया » Group Captain Harkirat Will Make The Landing Of The First Rafale In Ambala
 

भारत में पहला राफेल लैंड करवाएंगे ग्रुप कैप्टन हरकीरत, 12 साल पहले हवा में किया था हैरतअंगेज कारनामा

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 July 2020, 14:35 IST

सोमवार को फ्रांस (France) से उड़ान भरने वाले पांच राफेल (Rafale) विमान भारतीय वायु क्षेत्र में प्रवेश कर चुके हैं. INS कोलकाता ने भारतीय वायु क्षेत्र में प्रवेश करने के बाद जवानों से बात की है. उम्मीद है कि दोपहर 2 बजे अंबाला एयर बेस (Ambala Air Force) पर यह विमान लैंड करेंगे. अंबाला एयरबेस पर सबसे पहला राफेल विमान वायुसेना की 17वीं गोल्डन एरो स्क्वॉड्रन के कमांडिंग ऑफिसर और शौर्य चक्र विजेता ग्रुप कैप्टन हरकीरत सिंह लैंड करवाएंगे और उसके बाद उनके पीछे चार चार विमान लैंड करेंगे.

17वीं गोल्डन एरो स्क्वॉड्रन के कमांडिंग ऑफिसर शौर्य चक्र विजेता ग्रुप कैप्टन हरकीरत सिंह की बहादुरी के किस्से सभी जानते हैं. 23 सितंबर 2008 की बात है, उस दौरान हरकीरत सिंह स्क्वाड्रन लीडर थे, अभ्यास के लिए राजस्थान में स्थित एक एयरबेस से उन्होंने मिग-21 बाइसन में रात में उड़ान भरी थी. हालांकि, शुरूआत में सब कुछ सामान्य लगा लेकिन जैसे ही फाइटर प्लेन 4किमी की ऊंचाई पर पहुंचा तो उन्हें इंजन में तीन धमाके सुनाई दिए और अचानक से इंजन बंद हो गया और कॉकपिट में अंधेरा छा गया.


Group Captain Harkirat Singh

हरकीरत सिंह ने अपनी समझदारी का परिचय देते हुए इमरजेंसी लाइट जलाई और फिर उन्होंने आसमान में ही किसी तरह से इंजन में लगी आग पर काबू पाया. इसके बाद उन्होंने फिर से इंजन चालू किया और फिर ग्राउंड कंट्रोल की मदद से नेविगेशन सिस्टम की मदद से रात में लैंडिंग की. हरकीरत सिंह ने जो कारनामा किया था, उसके लिए उच्च कौशल की जरूरत होती है. हरकीरत सिंह के पास इस दौरान फाइटन प्लेन ने कूद जाने का भी विकल्प था, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. हरकीरत सिंह को उनकी बहादुरी के लिए शौर्य चक्र से नवाजा गया था.

 

अंबाला एयरबेस पर होगा स्वागत

अंबाला एयरबेस पर लैंड करने के बाद, सबसे पहले उसे ‘वॉटर सैल्यूट’ दिया जाएगा. इसके बाद पांचों राफेल एक कतार में खड़े किए जाएंगे और फिर सैन्य सेरेमनी होगी. इस दौरान राफेल विमानों की अगुवाई के लिए वायुसेना प्रमुख एयरचीफ मार्शल आरकेएस भदाैरिया समेत वेस्टर्न एयर कमांड के कई अधिकारी भी अंबाला एयरफोर्स स्टेशन पर मौजूद रहेंगे. वहीं इस दौरान इन विमानों को उड़ाकर ला रहे जवानों के परिजन भी वहां मौजूद रहेंगे.

Rafale in India : क्यों चीनी फाइटर जेट J20 भारत के Rafale के सामने अनुभव में अभी बच्चा है

UAE में जिस एयरबेस पर रूके थे राफेल विमान, ईरान ने उसके पास दागी मिसाइलें- रिपोर्ट

First published: 29 July 2020, 14:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी