Home » इंडिया » GST council meet today, more than 1200 goods and services will be under 18 percent GST slab
 

मोदी सरकार का तोहफा- करीब 1200 सामान हो जाएंगे सस्ते, GST मीटिंग में आज होगा फैसला

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 December 2018, 12:17 IST

आज दिल्ली के विज्ञान भवन में गुड्स ऐंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) काउंसिल की 31वीं बैठक शुरू हो चुकी है. इस बैठक की अध्यक्षता वित्त मंत्री अरुण जेटली कर रहे हैं. इस बैठक में आज कई सामानों और सर्विसेज को कम टैक्स के अंतर्गत लाने पर विचार किया जाएगा. इसके साथ ही इस मीटिंग में टैक्स अनुपालन को लेकर भी कई अहम फैसले लिये जाने हैं. बताया जा रहा है कि इस मीटिंग का मुख्य उद्देश्य आम आदमी को जीएसटी के बोझ से कुछ राहत देने के विकल्पों पर विचार करना है.

सूत्रों की मानें तो इस मीटिंग में जीएसटी के 28 प्रतिशत के टैक्स स्लैब को लॉजिकल बनाने के लिए कई सामानों को 18 प्रतिशत के टैक्स स्लैब में शिफ्ट किया जा सकता है. अभी के टैक्स स्लैब को देखें तो 28 प्रतिशत के टैक्स स्लैब में कुल 34 सामान हैं. वहीं ऐसा भी कहा जा रहा है कि इस मेटिंग में ई-बिल जारी करने को लेकर भी नियम सख्त किए जाएंगे. बता दें कि ऐसा भी अनुमान है कि 1 अप्रैल से नए जीएसटी रिटर्न फाइलिंग का ट्रायल शुरू हो सकता है.

 

क्या-क्या होगा सस्ता

सूत्रों की मानें तो वाहनों के टायरों पर जीएसटी दर को 18 प्रतिशत के टैक्स स्लैब में लाया जा सकता है. इसके साथ ही कुछ अन्य सामान जैसे डिजिटल कैमरा, एयर कंडीशनर, वॉशिंग मशीन, सेट टॉपबॉक्स, कंप्यूटर मॉनिटर, यूपीएस और प्रॉजेक्टर पर भी टैक्स में कुछ कमी लाइ जा सकती है. इतना ही नहीं इन वस्तुओं के अलावा सीमेंट पर भी टैक्स कम किया जा सकता है.

सूत्रों की मानें तो इस तरह से टैक्स काम करने के बाद सरकार पर करीब 20,000 करोड़ रुपये का सालाना अतिरिक्त बोझ पड़ेगा, लेकिन इस बोझ के बाद भी टैक्स को कम किये जाने के पूरे आसार हैं.गौरतलब है कि बीते मंगलवार को ही पीएम मोदी ने 1,200 से अधिक वस्तुओं और सेवाओं में से 99 प्रतिशत पर 18 प्रतिशत या उससे कम जीएसटी लगने की बात कही थी.

First published: 22 December 2018, 12:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी