Home » इंडिया » Gujarat: As a mark of protest youth allegedly commits suicide in Surat
 

पाटीदार आंदोलन: मेहसाणा में कर्फ्यू हटा, सूरत में युवक की खुदकुशी

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 April 2016, 14:30 IST
QUICK PILL
  • गुजरात के हिंसा प्रभावित मेहसाणा में हालात शांतिपूर्ण हैं. आरक्षण और जेल में बंद अपने समुदाय के नेताओं की रिहाई की मांग पर पटेल समाज के प्रदर्शन के दौरान हिंसा भड़क उठी थी.
  • मेहसाणा, सूरत, राजकोट, बनासकांठा और साबरकांठा समेत कई शहरों में मोबाइल और इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया था. राज्य के हालात पर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सीएम से बात की है.

गुजरात में एक बार फिर पाटीदार अनामत संघर्ष समिति का आंदोलन हिंसक दौर में पहुंच गया है. सूरत में 27 साल के एक युवक ने जहर खाकर खुदकुशी कर ली है. बताया जा रहा है कि आरक्षण आंदोलन के समर्थन में उसने सुसाइड किया है.

इस बीच मेहसाणा में प्रदर्शन के दौरान हिंसा के बाद लगाया गया कर्फ्यू हटा लिया गया है. कलेक्टर लोचन सेहरा के मुताबिक शहर में शाम तक इंटरनेट सेवा पर रोक लगाई गई है. साथ ही इलाके के स्कूल-कॉलेज भी खुले हैं.

पढ़ें:गुजरात: पाटीदार आंदोलन की आग फिर भड़की, मेहसाणा में हिंसा के बाद कर्फ्यू

कलेक्टर लोचन सेहरा का कहना है कि हालात काफी तेजी से सामान्य हो रहे हैं. सूरत शहर में राज्य रिजर्व पुलिस बल की छह कंपनी तैनात की गई हैं.

सूरत के अलावा नवसारी में भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. वहीं वलसाड में भी रिजर्व पुलिस की दो कंपनी लगाई गई है. जबकि सूरत ग्रामीण और नवसारी में एक-एक कंपनी तैनात है. वहीं दांग में 100 पुलिसकर्मी सुरक्षा के लिए लगाए गए हैं. 

सीएम आनंदी बेन-राजनाथ की बातचीत

पाटीदार समाज के बंद की वजह से अहमदाबाद में बस सेवाएं प्रभावित हुई हैं. जिससे लोगों को काफी मुश्किल हो रही है.

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने राज्य के हालात पर मुख्यमंत्री आनंदी बेन पटेल से बात की है. सीएम ने गृह मंत्री को हालात पर काबू पाने और शांति बनाए रखने के लिए उठाए जा रहे कदमों के बारे में जानकारी दी.

पढ़ें:पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल बने गुजरात जेल प्रशासन का सिरदर्द

PTI 2

'पटेल समाज से बात करे सरकार'

इस बीच कांग्रेस ने कहा है कि मुख्यमंत्री आनंदी बेन पटेल को प्रदर्शनकारियों से बैठकर बात करनी चाहिए. रविवार को सरदार पटेल ग्रुप और पाटीदार अनामत संघर्ष समिति ने आरक्षण और हार्दिक पटेल की रिहाई की मांग को लेकर राज्य में प्रदर्शन किया था.

प्रदर्शन के दौरान मेहसाणा में हिंसा भड़क गई थी. प्रदर्शनकारियों ने कुछ इमारतों में आग लगा दी थी. साथ ही पुलिस की कई गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई. जिसके बाद वहां कर्फ्यू लगा दिया गया था.

पढ़ें:हार्दिक पटेल जेल से रिहाई के बाद करेंगे किंजल से सगाई

First published: 18 April 2016, 14:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी