Home » इंडिया » Gujarat govt halts recruitment for 4,000 posts over 10% quota modalities
 

गुजरात सरकार ने रोकी 4000 पदों पर भर्तियां, 10 फीसदी आरक्षण के साथ फिर शुरू होगी प्रक्रिया

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 January 2019, 11:13 IST

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की घोषणा के बाद लगभग 4,000 सरकारी रिक्तियों की भर्ती प्रक्रिया को तत्काल प्रभाव से स्थगित कर दिया गया है. उच्च शिक्षा और सरकारी नौकरियों में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को 10 प्रतिशत आरक्षण देने वाले हाल ही में बनाए गए केंद्रीय कानून को 14 जनवरी से लागू किया जाएगा. नए कानून के तहत तौर-तरीके स्पष्ट होने के बाद भर्ती प्रक्रिया नए सिरे से शुरू होगी.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार केंद्रीय कानून को 12 जनवरी को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने मंजूरी दे दी थी और उसके अगले दिन रूपाणी ने घोषणा की कि 10 प्रतिशत कोटा सभी सरकारी नौकरियों के लिए भर्ती प्रक्रिया में गुजरात में लागू किया जाएगा जहां वास्तविक प्रक्रिया अभी तक शुरू नहीं हुई है.

उसके कुछ समय बाद गुजरात लोक सेवा आयोग (GPSC) के अध्यक्ष दिनेश दासा ने भी घोषणा की कि आयोग ने सभी प्रारंभिक परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है, जो 20 जनवरी और उसके बाद आयोजित होने वाली थीं.

GPSC से उपलब्ध विवरणों के अनुसार, जो सरकारी नौकरियों में क्लास 1 और 2 श्रेणी के रिक्त पदों की भर्ती करता है, उसने अक्टूबर, 2019 तक विभिन्न भर्ती परीक्षाओं को निर्धारित किया था. अब इन सभी परीक्षाओं को पुनर्निर्धारित किया जाएगा. सभी में GPSC ने 20 जनवरी 2019 और अक्टूबर, 2019 के बीच क्लास 1 और 2 रैंक की लगभग 1,300 रिक्तियों के लिए भर्ती परीक्षा के लिए 78 विज्ञापन जारी किए हैं. दासा ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा की गई घोषणा के अनुसार, आयोग ने 20 जनवरी से परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है.

उन सभी परीक्षाओं को अब सामान्य वर्ग में ईडब्ल्यूएस के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण लागू करते हुए आयोजित किया जाएगा. परीक्षा स्थगित करने की नई तारीखें सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा एक अधिसूचना (नए अधिनियम के कार्यान्वयन के बारे में) प्राप्त करने के बाद घोषित की जाएंगी, जो जल्द ही होने की उम्मीद है."

जीएसएसएसबी के सचिव पी डी पलसाना ने कहा, “ईडब्ल्यूएस कोटा लागू करने की घोषणा के बाद हमने लगभग 2,400 रिक्तियों के लिए भर्ती प्रक्रिया को स्थगित कर दिया है. अधिकांश रिक्तियां गैर-सचिवालय क्लर्क (2,200) की हैं. हम नए कानून के बारे में सरकारी संचार प्राप्त करने के बाद परीक्षाओं की नई तारीख जारी करेंगे.”

ये भी पढ़ें : सबरीमाला मंदिर में घुसने वाली पहली महिला को उनकी सास ने डंडे से पीटा, अस्पताल में भर्ती

First published: 16 January 2019, 11:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी