Home » इंडिया » Gujarat: PM Modi inaugurated first phase of SAUNI project in Jamnagar
 

सौराष्ट्र को पीएम मोदी की सौगात: 'सौनी' योजना का आगाज, दूर होगा जलसंकट

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 August 2016, 13:46 IST
(एएनआई)

पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने गृहराज्य गुजरात के सौराष्ट्र में एक बड़े वॉटर प्रोजेक्ट का लोकार्पण किया. इस योजना से यहां के लोगों को पानी की समस्या से निजात मिलने की उम्मीद है.

सौराष्ट्र क्षेत्र का जल संकट समाप्त करने के उद्देश्य वाली महत्वाकांक्षी सौराष्ट्र नर्मदा अवतरण सिंचाई योजना (सौनी योजना) के पहले चरण का मंगलवार को पीएम मोदी ने उद्घाटन किया. इस मौके पर गुजरात के सीएम विजय रूपानी और डिप्टी सीएम नितिन पटेल भी मौजूद रहे.

खराब मौसम की वजह से पीएम मोदी पूर्व निर्धारित हेलीकॉप्टर की बजाय सडक मार्ग से आजी-3 डैम पहुंचे. पीएम मोदी ने बटन दबाकर नर्मदा नदी के अतिरिक्त जल को सौराष्ट्र के जलाशयों को भरने की इस योजना की शुरुआत की.

11 जिलों के 115 जलाशयों को नर्मदा पर बने सरदार सरोवर बांध का पानी पहुंचाया जाएगा. (एएनआई)

11 जिलों का जलसंकट होगा दूर

योजना के तहत सौराष्ट्र क्षेत्र के 11 जिलों के 115 छोटे-बडे बांधों के जलाशयों को नर्मदा नदी पर बने सरदार सरोवर बांध के अतिरिक्त जल से भरा जाना है. पीएम मोदी ने गुजरात का मुख्यमंत्री रहते हुए 2012 में करीब 1200 करोड़ वाली इस योजना का शिलान्यास किया था.

इस योजना के पहले चरण के तहत 10 जलाशयों को भरा जाना है. चार चरणों वाली यह योजना वर्ष 2019 तक पूरी होने की संभावना है. 

4 लाख हेक्टेयर में सिंचाई क्षमता

इस योजना के जरिये चार लाख हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई क्षमता पैदा की जा सकेगी और पानी की कमी वाले सौराष्ट्र में इस समस्या को बहुत हद तक दूर किया जा सकेगा.

मानसून के दौरान नर्मदा जिले के केवडिया में बने सरदार सरोवर नर्मदा बांध के ओवरफ्लो के कारण बहुत सारा पानी समुद्र में बह जाता है. इस योजना के तहत इसके करीब एक तिहाई हिस्से को पाइपलाइन के जाल के जरिये वहां से चार से पांच सौ किमी दूर स्थित सौराष्ट्र के बांधों तक पहुंचाया जाना है. 

चार चरण की सौनी योजना

राज्य सरकार के सिंचाई विभाग की इस योजना के तहत करीब तीन मीटर व्यास वाली पाइपलाइन के जरिए कई महत्वपूर्ण डैम को आपस में जोड़ा जाएगा. इसका पहला लिंक 180 किमी, दूसरा 253, तीसरा 245 और चौथा 250 किमी लंबा होगा. 

प्रोजेक्ट के तहत बड़ी पाइपलाइन से छोटे व्यास वाले पाइप का जाल जुडे़गा, जो नर्मदा के अतरिक्त जल को वहां से दूसरे छोटे जलाशयों तक पहुंचाएगा.

पीएम की महत्वाकांक्षी योजना

पीएम मोदी ने आजी तीन डैम से आजी 4 डैम और इसके बाद उंड एक डैम में पानी के बहाव वाले स्विच को दबाकर इस योजना के पहले चरण की विधिवत शुरुआत की.

सीएम विजय रूपानी ने लोकार्पण से पहले ट्वीट किया, "सौनी (एसएयूएनआई) पीएम मोदी का ड्रीम सिंचाई प्रोजेक्ट था, जब वो गुजरात के मुख्यमंत्री थे. आज वो इसे बतौर प्रधानमंत्री देश को समर्पित करने जा रहे हैं."

राज्य में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में आरक्षण आंदोलनों की पृष्ठभूमि के बीच इस योजना के लोकापर्ण को सत्तारूढ़ भाजपा की ओर से बड़ा कदम माना जा रहा है.

First published: 30 August 2016, 13:46 IST
 
अगली कहानी