Home » इंडिया » Gujrat Businessman gives up Rs 6,000 black money
 

पीएम मोदी का सूट खरीदने वाले हीरा कारोबारी ने खजाने में जमा किए 6000 करोड़!

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 November 2016, 13:13 IST
(फाइल फोटो )

मोदी सरकार ने जब से 500 रुपये और 1000 रुपये के नोटों को बंद कि‍ए जाने का एलान किया है, तब से देश भर से काला धन बाहर नि‍कलने की खबरें सामने आ रही है. 

सोशल मीडिया में गुजरात के हीरा कारोबारी लालजी भाई पटेल से जुड़ी एक खबर वायरल हो रही है. इसके मुताबिक हीरा व्यापारी ने अपने 6 हजार करोड़ रुपये को मोदी सरकार के सामने सरेंडर कर दिया. हालांकि कैच इस खबर की पुष्टि नहीं करता है.

सोशल मीडिया पर खबर वायरल

अभी तक इस बारे में कोई आधिकारिक जानकारी भी नहीं मिली है. वहीं लालजी भाई पटेल का बयान सामने आने के बाद यह खबर झूठी निकली है. ये वही लालजी भाई व्‍यापारी हैं, जिन्‍होंने नीलामी में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का नाम लिखा सूट 4.31 करोड़ रुपये में खरीदा था.

सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा था कि लालजी भाई ने 200 फीसदी जुर्माने के हिसाब से 5400 करोड़ रुपये अलग से चुकाए हैं, इसमें 30 फीसदी टैक्स के हिसाब से 1800 करोड़ रुपये और बाकी 3600 करोड़ रुपये पेनल्टी के हैं.

गौरतलब है कि लालजी पटेल ने हाल ही में बालिका शिक्षा के लिए जहां 200 करोड़ रुपये दान दिया था. वे अपनी कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों को बोनस के रूप में मकान और कार भी दे चुके हैं.

लालजी पटेल ने किया इनकार

सूरत के हीरा कारोबारी लालजी भाई पटेल ने इस खबर को ग़लत करार दिया है. कारोबारी लालजी भाई ने सोशल मीडिया पर वायरल हो रही इस खबर को फर्जी बताया है.

लालजी ने कहा कि इस तरह की रिपोर्ट स्थानीय मीडिया में भी चल रही है. एबीपी अस्मिता चैनल के एक वीडियो में लालजी भाई इस मुद्दे पर सफाई देते हुए नज़र आ रहे हैं.

लालजी भाई ने कहा, "सोशल मीडिया में चल रहे संदेशों में मुझे बिल्डर बताया जा रहा है. मैं बिल्डर नहीं, हीरा कारोबारी हूं और मेरे नाम से चल रही खबरें झूठी और मनगढ़ंत हैं."

First published: 15 November 2016, 13:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी