Home » इंडिया » Gujrat Factories shut down after attck on north indians UP-bihar-Mp people left gujrat
 

गुजरात: उत्तर भारतीयों के पलायन से बर्बादी के कगार पर पहुंचे उद्योग-धंधे, कई फैक्ट्रियां बंद

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 October 2018, 14:34 IST
(Catch Hindi Creative)

गुजरात में 14 महीने की मासूम के साथ हुए बलात्कार के बाद राज्य में यूपी-बिहार के लोगों पर हमले हो रहे हैं. हमलों में कई उत्तर भारतियों के बुरी तरह से घायल होने की खबर आई है. इन हमलों के बाद से ही दहशत में आये यूपी-बिहार निवासियों ने राज्य से पलायन शुरू कर दिया. वहीं इस मामले में राज्य के डीजीपी ने कहा कि ये पलायन नहीं है बल्कि त्योहारों के चलते लोग अपने अपने घर जा रहे हैं.

इतनी भारी मात्रा में लोगों के पलायन करने से अब गुजरात के उद्योगों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ रहा है. पलायन का असर इतना बुरा हुआ है कि गुजरात की कई फैक्ट्रियां बंद होने की कगार पर आकर खड़ी हो गई हैं. गौरतलब है कि गुजरात में काम करने के लिए बड़ी संख्या में यूपी, बिहार औऱ एमपी से लोग आते हैं. लेकिन इस तरह से गैर गुजरातियों पर हो रहे हमलों से कामगरों में दहशत फ़ैल गई है.

उत्तर भारतियों के साथ हुई हिंसा का असर यहां के उद्योग धंधों और व्यापार पर पड़ता दिख रहा है. उत्तर भारतीयों पर होने वाले हमलों की वजह से अब तक 10 हजार से ज्यादा लोग पलायन कर चुके हैं. चार दिन में उत्तर भारतीयों पर 42 से ज्यादा हमले हो चुके हैं. आक्रोश का असर मेहसाणा, साबरकांठा, अहमदाबाद, अरावली, पाटण, गांधीनगर जिलों में सबसे ज्यादा देखने को मिल रहा है.

इतनी बड़ी मात्रा में कामगारों के पलायन करने से अब गुजरात में इंडस्ट्रीज बंद होने लगी हैं. क्योंकि काम करने के लिए उनके पास वर्कर ही नहीं हैं. गुजरात के डीजीपी शिवानंद झा ने बताया कि अब तक 342 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. उत्तर भारतीयों का कहना है कि उनके घरों और फैक्ट्रियों में हिंदीभाषियों को निशाना बनाया जा रहा है. मकानमालिक घर छोड़ने को कह रहे हैं.

सोशल मीडिया पर अफवाहें फैलाकर हिंसा भड़काने वाले 70 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करके सात को गिरफ्तार किया गया है. हिंसा प्रभावित क्षेत्रों के लिए पुलिस ने एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया है. गैर गुजरातियों की सुरक्षा के लिए राज्य में राज्य रिजर्व पुलिस की 17 कंपनियों को तैनात किया गया है.

जब चाइल्ड हेल्पलाइन पर कॉल करके सेक्स सर्विस मांगने लगे लोग..

गौरतलब है कि बता दें कि पिछले दिनों गुजरात में एक 14 महीने की बच्‍ची के साथ दुष्‍कर्म हुए था, जिसके बाद भीड़ गैर-गुजरातियों पर हमले कर रही है. अहमदाबाद के चाणक्‍यपुरी फ्लाईओवर के नीचे बस का इंतजार कर रहे कुछ प्रवासियों ने अपना दर्द बताते हुए कहा कि कई मकान मालिकों ने घर खाली करने को कह दिया था.

 

First published: 8 October 2018, 14:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी