Home » इंडिया » Hadiya case: supreme Court upholds the marriage of Hadiya, also set aside the Kerala High Court order
 

हादिया लव जिहाद मामला: SC ने केरल हाईकोर्ट का फैसला पलटा, पति-पत्नी की तरह रहेंगे दोनों

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 March 2018, 14:58 IST

सुप्रीम कोर्ट ने केरल के लव जिहाद के एक चर्चित मामले में केरल हाई कोर्ट का फैसला बदल दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में बड़ा फैसला सुनाते हुए हादिया के निकाह को बहाल कर दिया है. कोर्ट का कहना है कि हादिया और उसका पति शफीन दोनों पति-पत्नी की तरह रह सकते हैं.

सुप्रीम कोर्ट ने इसके साथ ही साफ कर दिया कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) लव जिहाद के मामले में इसके पहुलओं पर पहले की तरह जांच कर सकती है. केरल हाईकोर्ट ने इस मामले के सामने आने के बाद दोनों की शादी रद्द कर दी थी. सुप्रीम कोर्ट ने हाई कोर्ट का फैसला पलटते हुए कहा कि हादिया की शादी को रद्द करने का फैसला पूरी तरह गलत था. अब हादिया अपनी पढ़ाई जारी रख सकती है और जो वह चाहती हैं कर सकती हैं.

क्या था मामला?

गौरतलब है कि पिछले साल हादिया ने मुस्लिम धर्म अपनाकर शफीन जहां नाम के शख्स से निकाह कर लिया था. इसके बाद हादिया के अशोकन केएम ने इस मामले को लेकर केरल हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की थी. केरल हाईकोर्ट ने इस पर सुनवाई करते हुए इसे 'लव जिहाद' का मामला माना था.

केरल हाईकोर्ट ने हादिया और शफीन की शादी को रद्द कर दिया था. इसके बाद शफीन ने हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी. सुप्रीम कोर्ट ने बीते साल नवंबर में हादिया को तमिलनाडु के सलेम स्थित होम्योपैथिक कॉलेज में अपनी शिक्षा जारी रखने की अनुमति दी थी. 

इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में पेश हुईं हदिया ने अपने पति के साथ रहने की इच्छा जताई थी. जिसकी कोर्ट ने इजाजत दे दी. अदालत ने कहा कि हदिया को अपने पति के साथ रहने की  पूरी आज़ादी मिलनी चाहिए. वहीं हादिया के पिता के.एम. अशोकन ने आरोप लगाया था कि उनकी बेटी अखिला अशोकन का गलत तरीके से धर्म परिवर्तन कराया गया था. 

 

गौरतलब है कि इस मामले की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने NIA को झटका देते हुआ कहा था कि 25 साल की हादिया बालिग हैं और उन्हें अपनी मर्जी से शादी करने का अधिकार है, इसलिए NIA शादी की वैधता की जांच नहीं कर सकती है.  हालांकि, कोर्ट ने लव जिहाद के मामलों पर NIA की जांच का आदेश वापस लेने पर कुछ नहीं कहा.

ये भी पढें- हादिया लव जिहाद मामला: सुप्रीम कोर्ट ने कहा, 'शादी पर सवाल नहीं उठाए जा सकते'

First published: 8 March 2018, 14:55 IST
 
अगली कहानी