Home » इंडिया » Happy Diwali 2020: India is going to give a big blow to China, he will lose full 60,000 crores
 

दीवाली पर चीन को बड़ा झटका देने वाला है भारत, लगाने जा रहा है 60 हजार करोड़ का चूना

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 November 2020, 9:20 IST

Diwali 2020: कोरोना महामारी के दौरान देशभर में भारत का सबसे बड़ा त्योहार दिवाली मनाया जाएगा. इस दीवाली पर भारत पड़ोसी देश चीन को बड़ा झटका देने वाला है. दीवाली से पहले भारतीय बजारों में खरीदारी शुरू हो गई है. देश की राजधानी दिल्ली समेत सभी बाज़ारों में ग्राहकों की चहल पहल शुरू हो गई है.

दीवाली और धनतेरस को देखते हुए पिछले दो दिनों में बाज़ारों में रौनक आई है. इससे व्यापारी काफी उत्साहित दिखाई दे रहे हैं. कोरोना काल में आठ महीने के व्यापारिक वनवास के बाद ये बड़ा त्योहार है जिससे उन्हें उम्मीदें हैं. दिवाली के बाद देश के व्यापार में एक बड़ा सकारात्मक परिवर्तन होगा. इस बीच भारत चीन को बड़ा झटका देने जा रहा है.

इस बार देशभर के बाजारों में चीन के सामान का पूरी तरह से बहिष्कार हो रहा है. व्यापारी चीनी सामान बेच भी नहीं रहे हैं और उपभोक्ता पूरी तरह से चीनी सामान का बहिष्कार करने के मूड में दिखाई दे रहा है. भले ही चीनी सामान सस्ता मिल रहा हो लेकिन उपभोक्ता इस बार इसे खरीदने में बिल्कुल भी इंटरेस्टेड नहीं दिख रहे हैं.

जिस तरह पिछले कुछ सालों में चीन का भारत के साथ दीवाली के समय व्यापार होता है. उसे देखते हुए इस बार देशभर के बाज़ारों से चीन को लगभग 60 हजार करोड़ रुपए का नुकसान होने का अनुमान लगाया जा रहा है. कैट ने भी आह्वान किया है कि इस बार लोग पूरी तरह से चीन के सामान का बहिष्कार करें. कैट के आह्वान के बाद लोग देश के सभी हिस्सों में लोग पूरी तरह से चीन बहिष्कृत दिवाली मनाने के लिए तैयार हैं.

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी सीभरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने बताया कि दिवाली के अलावा धनतेरस 13 नवम्बर, गोवर्धन पूजन 15 नवम्बर, भैया दूज 16 नवंबर, छठ पूजा 20 नवम्बर को है. इसके अलावा तुलसी विवाह 26 नवम्बर को मनाया जाएगा. इन त्योहारों के मद्देनजर बज़ारों में खिलौने, गिफ़्ट आर्टिकल्ज़, ड्राई फ़्रूट, रेडीमेड गारमेंट्स, सौंदर्य प्रसाधन, वस्त्र, मोबाइल, इलेक्ट्रॉनिक आइटम्ज़, होम फ़र्निशिंग, बर्तन , किचन उपकरण एवं किचन का सामान काफी मात्रा में बिकता है.

इसके अलावा घर सजाने के लिए बिजली का सामान, एफ़एमसीजी उत्पाद, प्रतिदिन काम में आने वाली वस्तुएँ , मिठाइयां, होम फ़र्निशिंग, टैपस्ट्री, बर्तन, क्रॉकरी, पकवान एवं चोक्लेट के गिफ़्ट, फलों की गिफ़्ट टोकरियां, अगरबत्ती, दिवाली पूजा का सामान, धूपबत्ती, एवं गूगल की सुगंध वाली वस्तुओं आदि की मांग पिछले दो दिनों में बढ़ी है. 

लद्दाख में जल्द समाप्त हो सकता है भारत-चीन सीमा विवाद, डिस-एंगेजमेंट पर बनी सहमति- रिपोर्ट

Diwali 2020: योगी सरकार का बड़ा फैसला, यूपी के इन 30 जिलों में 30 नवंबर तक पटाखे बैन

First published: 12 November 2020, 8:56 IST
 
अगली कहानी