Home » इंडिया » Haridwar luxar Farmer commits suicide and write a letter don't vote for BJP
 

दर्दनाक: BJP को वोट नहीं देना लिख किसान ने कर ली आत्महत्या, जानिए पूरा मामला

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 April 2019, 11:12 IST
(Representative Image )

लोकसभा चुनाव का बिगुल आज से बज गया है और आज पहले चरण का मतदान चल रहा है. सभी लोग वोट देने के लिए जा रहे है और अपने पसंद के उम्मीदवार को वोट कर रहे हैं लेकिन एक तरफ हरिद्वार के लक्सर में एक किसान ने कर्ज के दबाव में खुदकुशी कर ली है और इस मामले में पुलिस ने बैंक के एजेंट को अरेस्ट भी कर लिया है. लेकिन ये आत्महत्या का मामला बड़ा तब हुआ जब किसान के पास एक सुसाइड नोट मिला और उसमें बीजेपी को वोट ना देने की बात लिखी हुई थी जिसे पढ़कर सभी हैरान रह गए.

 

Letter

रिपोर्ट्स के अनुसार,हरिद्वार के लक्सर में किसान ईश्वरचंद शर्मा ने जहर खाकर मौत का दामन थाम लिया. पीछे एक सुसाइड नोट छोड़ा और लोन एजेंट अजित सिंह पर आरोप लगाया कि उन्होंने लोन दिलाने का दावा किया था. लोन दिलाने के पहले एजेंट ने बैंक की गारंटी के तौर पर किसान से ब्लैंक चेक ले लिया था और जैसे ही किसान के नाम पर लोन मिला वैसे ही एजेंट ने चेक से सारी राशि निकाल ली. इस बड़े झटके को सहन ना कर पाने की वजह से किसान ने आत्महत्या करने जैसा बड़ा फैसला लिया.

 

किसान ने सुसाइड नोट में लिखा," पांच साल में भाजपा सरकार ने किसान को खत्म व नष्ट कर दिया है. इसे वोट मत देना वरना ये आपको चाय ही बिकवा देगी. पांच साल में हर काम बंद हो गया. भाजपा सरकार ने किसान को खत्म किया है. आज भाजपा से किसान दुखी हैं. इसके आगे किसान ईश्वरचंद ने एजेंट अजीत का भी नाम लिखा और आरोप लगाया कि कृषि कार्ड से साल 2012, 2013 और 2014 में एजेंट ने फर्जी तरीके से उसके नाम पर कई बैंकों से लाखों रुपये कर्ज लिया. उन्हें एक फूटी कौड़ी भी नहीं मिली और इसके साथ ही उनके बेटे पर गलत आरोप लगाए गए." अब इस मामले पर पुलिस जांच कर रही है और एजेंट अजीत सिंह के खिलाफ धारा 306 के तहत मामला दर्ज किया गया है.

Video: केएल राहुल ने एक ओवर में कूट दिए 25 रन, जब लगाया सैकड़ा तो पांड्या के रिएक्शन ने जीता दिल

'पीएम नरेंद्र मोदी' रिलीज ना होने पर सितारों पर गुस्साए विवेक ओबरॉय, बोले- सेल्फी लेेने के लिए तो..

First published: 11 April 2019, 11:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी