Home » इंडिया » hartalika teej fast harder than karva chauth vrat
 

Hartalika Teej 2020: हरितालिका तीज का व्रत करवाचौथ से भी ज्यादा माना जाता है कठिन, ये है खास वजह

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 August 2020, 17:54 IST

नारी शक्ति का प्रतीक और अखंड सौभाग्य की कामना का ये पावन व्रत हरतालिता तीज भाद्रपद मास में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को रखा जाता है. इस व्रत को तीजा भी कहते हैं. इस दिन सौभाग्यवती स्त्रियां महादेव और पार्वती माता की पूजा अर्चना करती हैं.

तीजा का व्रत करवा चौथ व्रत से भी ज्यादा कठिन माना जाता है. इस व्रत को भी पूरे दिन निर्जला रखते हैं. अगले दिन पूजा के बाद व्रत को खोला जाता है.मान्यता है कि पति की लंबी उम्र के लिए इस व्रत को रखा जाता है. ये व्रत सौभाग्यवती स्त्रियां और अविवाहित युवतियां मन मुताबिक वर पाने के लिए हरतालिका तीज का व्रत रखती हैं. सबसे पहले इस व्रत को माता पार्वती ने भगवान शिव के लिए रखा था.


Muharram 2020: इस वजह से मनाया जाता है मोहर्रम, जानिए कौन हैं इमाम हुसैन ?

इस व्रत में महादेव और पार्वती माता के विवाह की कथा सुनाई जाती है. एक बार ये व्रत रखने बाद जिंदगीभर ये व्रत रखना होता है. इस दिन महिलाएं निर्जला व्रत रखती हैं और भगवान शिव, माता पार्वती की बालू या मिट्टी की मूर्ति बनाकर पूजन करती हैं.

इस व्रत में प्रत्येक पहर में भगवान शिव की पूजन और आरती होती है. इस व्रत के व्रती को शयन निषेध है. रात में भगवान के कीर्तन होते हैं. इस व्रत के दौरान पूरी रात जागना होता है. इसके बाद प्रात: स्नान के पश्चात श्रद्धापूर्वक किसी सुहागिन महिला को श्रृंगार सामग्री, वस्त्र, फल, मिष्ठान, आदि का दान करना चाहिए.

Ganesh Chaturthi 2020 : क्यों मनाई जाती है गणेश चतुर्थी ? ये है कारण

First published: 20 August 2020, 17:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी