तस्वीरें: सैलाब से सहमा रेगिस्तान, जोधपुर से भीलवाड़ा तक भारी बारिश

पत्रिका ब्यूरो | Updated on: 10 August 2016, 14:44 IST
(पत्रिका)

राजस्थान में भारी बारिश के बाद कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात हैं. मौसम विज्ञान के पूर्वानुमानों को धता बताते हुए दक्षिण पश्चिम मानसून ने राज्य के कई जिलों में कहर बरपाया है.

तीन दिन से हो रही मूसलाधार बारिश के बाद बांध और तालाब लबालब भर चुके हैं. कई इलाकों में रेल और सड़क यातायात भी बंद है. पिछले 24 घंटे के दौरान पाली जिले की बाली तहसील में 14 इंच से ज्यादा बारिश हुई है.

पत्रिका

जोधपुर में सात इंच बारिश होने के बाद शहर के कई इलाके पानी में डूब गए हैं. जोधपुर के साथ ही चित्तौड़गढ़, कोटा और भीलवाड़ा में मध्यम से लेकर तेज बारिश का दौर चल रहा है.

जोधपुर में मंगलवार को हुई भारी बारिश में बम्बा नाले में एक युवक बह गया. पानी का बहाव इतना तेज था कि युवक खुद को संभाल नहीं सका.

पत्रिका

लगातार तीन दिन से हो रही भारी बारिश के बाद पाली के जवाई बांध का जलस्तर 43 फीट को पार कर गया. जवाई बांध जिले का सबसे बड़ा जलस्रोत है. इसके सहायक सेई बांध पर चादर चलने लगी है. टनल से जवाई में लगातार पानी की आवक जारी है. 

पत्रिका

इस बीच मौसम विज्ञान केंद्र ने अगले 48 घंटे के दौरान प्रदेश के पूर्वी और पश्चिमी इलाकों मेें भारी बारिश का अनुमान जताते हुए रेड अलर्ट जारी किया है.

पत्रिका

पाली के बाली तहसील में सुबह आठ बजे तक 356 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई. इसके अलावा पाली शहर में 170, मारवाड़ जंक्शन में 188 और गिरोलिया में 70 मिमी बारिश हुई है.

पत्रिका

जोधपुर जिले में 181 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड हुई है. बावड़ी में 82, बिलाड़ा और भोपालगढ़ में 53, ओसियां में 68, बालेश्वर में 56, लोहावट में 48, तिंवरी में 65, लूणी में 39 और फलौदी में 44 मिमी बारिश दर्ज हुई है. 

पत्रिका

कोटा और पाली में देर रात से शुरू हुई बारिश का दौर बुधवार सुबह तक जारी रहा. जिससे राहत और बचाव कार्यों में मुश्किल हो रही है. जोधपुर में बीती रात बारिश का दौर थोड़ा धीमा रहा, लेकिन सुबह जिले के कई इलाकों में रिमझिम बारिश का दौर बना रहा.

पत्रिका

राजधानी जयपुर में भी रिमझिम बारिश से मौसम का मिजाज बदल गया. जिले के कई कस्बों में सुबह से बारिश का दौर बना रहा. चौमूं में कई घंटे बारिश हुई. पिछले 24 घंटे के दौरान वहां 47 मिमी बारिश हुई.

जयपुर के सांगानेर एयरपोर्ट पर 9.6 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई. वहीं दौसा के मोरेल बांध में 46 और महवा में 22 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है.

पत्रिका

बांसवाड़ा में भारी बारिश का कहर बरकरार है. बुधवार सुबह जिला मुख्यालय से आठ किलोमीटर दूर टामटिया आड़ा गांव में मकान गिरने से एक महिला की मौत हो गई.

थानू नाम की महिला के टिनशेड वाले घर के पास ही एक कच्चे मकान की दीवार गिर गई, जिसकी चपेट में आकर उसकी मौत हो गई. माली हालत खराब होने की वजह से गांव के लोगों ने चंदा जुटाकर अंतिम संस्कार के लिए पैसों का इंतजाम किया.

पत्रिका
First published: 10 August 2016, 14:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी