Home » इंडिया » Heavy rains and storms wreaked havoc in Telangana and Maharashtra, 77 people lost their lives
 

भारी बारिश और तूफान से तेलंगाना और महाराष्ट्र में तबाही, 77 से ज्यादा लोगों की दर्दनाक मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 October 2020, 11:18 IST

Heavy Rain in Maharashtra And Telangana: महाराष्ट्र और तेलंगाना में भारी बारिश और तूफान ने जमकर तबाही मचाई है. भारी बारिश और तूफान से दोनों राज्यों में 77 से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गंवा दी है. इन दोनों राज्यों में फसलों को काफी नुकसान हुआ है. दोनों राज्यों में पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश हो रही है, इस कारण बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई है.

महाराष्ट्र के सोलापुर, पुणे और सांगली जिलों में भारी बारिश के बाद आई तबाही ने कम से कम 27 लोगों की जान ले ली. तीनों जिलों में 20,000 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. देश की आर्थिक राजधानी कही जाने वाली मुंबई में पूरी रात जमकर बारिश हुई. इस कारण मुंबई में कई जगहों पर बाढ़ की की स्थिति है.

पुणे, सांगली, सोलापुर, सतारा तथा कोल्हापुर में पिछले दो दिन से जमकर बारिश हो रही है. अधिकारी ने जानकारी दी कि सोलापुर में अब तक 14 लोगों ने अपनी जान गंवाई है. इसके अलावा सांगली में नौ लोगों की भारी बारिश के बाद आई तबाही में जान चली गई. वहीं पुणे में अब तक चार लोगों की मौत हुई है.

अधिकारी ने जानकारी दी कि सोलापुर के पंढरपुर इलाके में बारिश के दौरान दीवार गिरने से छह लोगों की जान चली गई. पुणे में दौंद तहसील के खानोटा में चार लोगों की मौत झरने में झूबने से हो गई. अभी भी एक व्यक्ति लापता है. वहीं सांगली जिले में नौ लोगों की जान गई है. पंढरपुर में करीब 1,650 लोगों को बारिश से हुई तबाही से बचाने के लिए सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है.

अधिकारी ने जानकारी दी कि पुणे में 96 मिली बारिश हुई. वहीं कोल्हापुर जिले में 56 मिली पानी बरसा. इस दौरान महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने राज्य प्रशासन, नौसेना, वायुसेना और सेना से हाई अलर्ट पर रहने को कहा है. इसके अलावा तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने एक समीक्षा बैठक की. अधिकारियों ने सीएम को जानकारी दी कि ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) क्षेत्र में 11 लोगों की जान बारिश से आई तबाही में हुई है.

तेलंगाना के मुख्यमंत्री ने जानकारी दी कि भारी बारिश के कारण राज्य के निचले इलाकों में अचानक बाढ़ आ गई. इस कारण 5,000 करोड़ रुपये से अधिक का नुकसान हुआ. उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर राहत और पुनर्वास कार्यों के लिए 1,350 करोड़ रुपये की मांग की है.

Air Quality Index: बेहद खराब हुई दिल्ली-एनसीआर की हवा, नोएडा और गाजियाबाद भी रेड जोन में शामिल

Weather Update: मुंबई समेत महाराष्ट्र के कई इलाकों में रातभर हुई भारी बारिश, रेड अलर्ट जारी

First published: 16 October 2020, 9:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी