Home » इंडिया » High Alert in Gujarat after four terrorist entered, 3 states border seal including Rajasthan
 

गुजरात में चार आतंकी घुसने की सूचना के बाद हाई अलर्ट, राजस्थान सहित तीन राज्यों की सीमा सील

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 August 2019, 11:11 IST

गुजरात में चार आतंकी घुसने की सूचना मिलने के बाद राज्य में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. बताया जा रहा है कि ये चारों आतंकी पाकिस्तान खुफिया एजेंसी आईएसआई के सदस्य हैं. केंद्रीय खुफिया एजेंसियों ने गुजरात में आतंकी हमले से संबंधी इनपुट दिए हैं. इसके बाद गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश की सीमाओं को सील कर दिया गया है. हाईअलर्ट के चलते गुजरात आने वाले वाहनों को सघन तलाशी के बाद प्रवेश दिया जा रहा है. गुजरात एटीएस ने अफगानी आतंकी का स्कैच तैयार कर पुलिस अधिकारियों, जांच एजेंसियों और पुलिस थानों में भेज दिया है.

बता दें कि गुजरात के इंटेलिजेंस ब्यूरो को गुजरात और उदयपुर, सिरोही में आतंकी मूवमेंट का इनपुट मिला है. इसके आधार पर ही गुजरात आईबी ने उदयपुर, सिरोही में अलर्ट जारी कर दिया है. इसके बाद से उदयपुर संभाग का गुजरात सीमा के रतनपुर बॉर्डर एरिया को सील कर दिया है. आईजी बिनीता ठाकुर ने बताया कि गुजरात पुलिस के अलर्ट के बाद सीमा क्षेत्र में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. सुरक्षा के मद्देनजर यहां सीआरपीएफ और आर्म्ड फोर्स के जवानों को तैनात किया गया है.

इसके अलावा आतंकी अलर्ट के बाद सिरोही से सटे गुजरात के इलाके सभी होटलों की जांच के आदेश दिए गए हैं. इसी के साथ राजस्थान-गुजरात बॉर्डर को भी सीज कर दिया गया है. बॉर्डर से सटे भटाणा, मंडार, मावल और छापरी चौकी के साथ मोरस टोल पर पांच अलग नाके बनाए गए हैं. सिरोही पुलिस को आईजी से आदेश मिला है कि अफगानिस्तान के चार आतंकियों ने पासपोर्ट बनाकर भारत में प्रवेश किया है.

इससे पहले आतंकी हमले की खुफिया सूचना मिलने के बाद रविवार को डूंगरपुर में रतनपुर बॉर्डर को सील कर दिया गया था. साथ ही उदयपुर में भी पुलिस को हाईअलर्ट पर रखा गया था. सिरोही एसपी कल्याणमल मीणा के मुताबिक, आईजी की ओर से जारी हुए आदेश में बताया गया कि सीआईडी, एसएसबी और एटीएस को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के एजेंट के साथ 4 सदस्यों के भारत में प्रवेश की सूचना है. सभी अफगानिस्तान ग्रुप से संबंध रखते हैं.

भारत के वैज्ञानिकों को मिली बड़ी सफलता, चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश हुआ चंद्रयान-2

First published: 20 August 2019, 11:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी