Home » इंडिया » Himachal pradesh kasauli murder case: murdered speaks the motive of killing woman officer
 

कसौली मर्डर केस: हत्यारा बोला- मां ने पैर छूकर मांगी थी मोहलत, वो नहीं मानी तो मार दी गोली

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 May 2018, 10:28 IST

हिमाचल प्रदेश के कसौली में महिला अधिकारी की हत्या के आरोपी को वृन्दावन से गिरफ्तार कर लिया. आरोपी का नाम विजय है जिसे पुलिस ने बड़ी मशक्कत के बाद गिरफ्तार किया. इस मामले में दिल्ली पुलिस के सूत्रों से खबर मिली है कि आरोपी ने महिला अधिकारी को मरने के पीछे का मकसद बताया है.

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि शैलबाला काफी मिन्नतें करने के बाद भी उसे राहत देने को तैयार नहीं थी. वह एक अड़ियल अफसर की तरह बर्ताव कर रही थी और वह अफसर के साथ बात कर किसी तरह मामले को सेटल करना चाह रहा था, लेकिन अफसर उसकी बात सुनने को तैयार नहीं थी.

ये भी पढ़ें- हिमाचल प्रदेश: कसौली में महिला अधिकारी का हत्यारा वृंदावन से गिरफ्तार

आरोपी विजय सिंह ने बताया कि उसकी मां ने शैलबाला के पैर छूकर अतिक्रमण से राहत देने की मांग मानी थी, लेकिन शैलबाला सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला देकर कार्रवाई पर अड़ी रहीं. इसलिए उसने शैलबाला को गोली मारी.

ये भी पढ़ें- हिमाचल प्रदेश: कसौली में महिला अधिकारी का हत्यारा वृंदावन से गिरफ्तार

वहीं इस मामले में घटना के बाद हिमाचल प्रदेश के अधिकारियों की काफी आलोचना हुई और उच्चतम न्यायालय ने उन्हें फटकार भी लगायी. सोलन जिले में हुई इस घटना के बाद प्रदेश सरकार ने गुरुवार को पुलिस अधीक्षक मोहित चावला और पुलिस उपाधीक्षक ( परवानू ) रोमेश शर्मा का तबादला कर दिया. अगले आदेश तक अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉक्टर शिव कुमार को जिला पुलिस प्रमुख का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है.

सरकार ने घटना में मारी गयी अधिकारी शैलबाला शर्मा को ‘हिमाचल गौरव पुरस्कार ’ देने की भी घोषणा की है. साथ ही सरकार ने शैलबाला के निकटतम परिजन को उनकी बकाया सेवा वर्षों तक पूरा वेतन देने का फैसला लिया है.

First published: 4 May 2018, 10:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी