Home » इंडिया » himayat baigs death sentence commuted to a life term
 

जर्मन बेकरी धमाका: हिमायत बेग की फांसी उम्रकैद में बदली

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:51 IST

बॉम्बे हाईकोर्ट ने पुणे जर्मन बेकरी बम धमाके में दोषी हिमायत बेग की फांसी की सजा को उम्रकैद में बदल दिया है. कोर्ट ने बेग को साजिश और बम प्लांट के आरोपों से बरी कर दिया है. इससे पहले पुणे की सत्र न्यायालय ने बेग को फांसी की सजा सुनाई थी.

13 फरवरी 2010 को पुणे के जर्मन बेकरी में हुए ब्लास्ट में 17 लोगों की मौत हुई थी और इस घटना में 58 लोग घायल भी थे.

हमले की साजिश रचने और बम प्लांट करने के आरोप में हिमायत बेग को सितंबर 2010 में गिरफ्तार किया गया था. पुलिस ने उसे इंडियन मुजाहिद्दीन का सदस्य बताया था.

तीन साल तक चली सुनवाई के बाद अदालत ने 2013 में बेग को फांसी की सजा सुनाई थी. इस मामले के एक और आरोपी कातिल सिद्दीकी की 2012 में जेल में हत्या कर दी गई थी.

First published: 17 March 2016, 4:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी