Home » इंडिया » Home minister rajnath singh instruct security agencies for pm modi security
 

PM मोदी की सुरक्षा को लेकर गृहमंत्री अलर्ट, सुरक्षा एजेंसियों को दिया सिक्योरिटी बढ़ाने का निर्देश

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 June 2018, 14:56 IST

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार (12 जून) को सुरक्षा एजेंसियों और संबंधित विभागों को प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश दिए. राजनाथ सिंह ने यह निर्णय एक उच्चस्तरीय बैठक में लिया. केंद्रीय गृह मंत्री के साथ इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, केंद्रीय गृह सचिव राजीव गौबा और इंटेलीजेंस ब्यूरो के निदेशक राजीव जैन मौजूद थे.

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि गृह मंत्री के आवास पर हुई यह बैठक महाराष्ट्र पुलिस की उस रिपोर्ट के बाद आयोजित की गई थी जिसमें प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश रच रहे कुछ माओवादियों की आपसी बातचीत का ब्योरा दिया गया था. अधिकारी के अनुसार, गृह मंत्रालय ने निर्देश दिए कि पीएम मोदी की सुरक्षा और कड़ी करने के लिए अन्य सुरक्षा एजेंसियों से विचार विमर्श कर सभी जरूरी कदम उठाए जाएं.

 

बता दें कि 6 जून को पुणे पुलिस ने भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया था. उनके पास से पुलिस ने एक चिट्ठी बरामद की थी. इस चिट्ठी को लेकर पुलिस का कहना है कि इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की तरह हत्या करने की एक योजना का जिक्र है.

पुलिस का कहना है कि इस चिट्ठी में प्रधानमंत्री के किसी रोड शो को निशाना बनाने की बात थी. हालांकि इसमें सीधे नरेंद्र मोदी का नाम नहीं है लेकिन ‘राजीव गांधी जैसी हत्या’ होने की बात का जिक्र जरूर किया. 

पढ़ें- 'नायक' फिल्म की तरह पीयूष गोयल ने पत्रकार को दिया रेलमंत्री बनने का ऑफर, फिर हुआ ये..

गुरुवार को पुणे की अदालत में सरकारी वकील उज्जवला पवार ने अदालत में चिट्ठी जमा की थी. पवार को शक है कि यह चिट्ठी प्रतिबंधित भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) की केंद्रीय समिति के किसी सदस्य की हो सकती है. यहां तक कि पवार ने अदालत को यह चिट्ठी पढ़कर भी सुनाई.
 
चिट्ठी में लिखा गया है कि मोदी ने सफलतापूर्वक 15 राज्यों में सरकार बना ली है और अगर इसी तरह चलता रहा तो माओवादी दलों के लिए बड़ा खतरा पैदा हो जाएगा. इसीलिए वे एक और राजीव गांधी हत्याकांड की सोच रहे थे जिसके तहत किसी रोड शो को निशाना बनाने की रणनीति थी.

First published: 12 June 2018, 14:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी