Home » इंडिया » Homeless Oxford graduate gets a home in Delhi by Facebook post
 

Oxford युनिवर्सिटी से ग्रेजुएट शख्स सड़क पर सोने को था मजबूर, फेसबुक की वजह से मिला आशियाना

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 April 2018, 11:44 IST

वे दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटी मानी जानी वाली ऑक्सफोर्ड से पढ़े हुए हैं, लेकिन आज अपने बेटों के कारण सड़क पर सोने को मजबूर थे. वह तो भला हो फेसबुक का जिस पर उनकी कहानी फैलने के बाद उन्हें दिल्ली में घर मिला. हम बात कर रहे हैं ऑक्सफोर्ड युनिवर्सिटी से ग्रेजुएट कर दिल्ली की सड़क़ों पर अपनी जिंदगी गुजारने को मजबूर 76 साल के राजा सिंह फूल की.

दिल्ली के रेलवे स्टेशन पर कुछ समय पहले फर्राटेदार अंग्रेजी बोलता एक शख्स लोगों में कौतूहल का विषय बना हुआ था. उनकी इस कहानी को फेसबुक यूजर अविनाश सिंह ने फेसबुक पोस्ट में शेयर किया था. 76 साल के राजा सिंह फूल एक जमाने में दुनिया की प्रसिद्ध यूनिवर्सिटी ऑक्सफोर्ड में प्रोफेसर हुआ करते थे.

अविनाश सिंह ने लिखा था कि वे नई दिल्ली के रेलवे स्टेशन पर अपनी जिंदगी गुजारने को मजबूर हैं. राजा सिंह फूल ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के 1964 बैच के स्टूडेंट रहे हैं. उसके बाद उन्होंने वहीं नौकरी शुरु कर दी. लेकिन अपने भाई बी एस फूल के कहने पर वे वापस भारत आ गए. उन्होंने और भाई ने मिलकर कई बिजनेस में अपना हाथ आजमाया. मुंबई में मोटर पार्ट्स का कारोबार किया. लेकिन भाई की मौत के बाद उनका कारोबार ठप हो गया.

उन्होंने अपने बच्चों को भी अच्छी जिंदगी देने के लिए विदेश में पढ़ने भेज दिया, लेकिन पढ़-लिखने के बाद बच्चों ने भी विदेश में शादी कर घर बसा लिया और लौटकर अपने पिता की ओर नहीं देखा. उसके बाद राजा सिंह फूल की जिंदगी में कोई सहारा नहीं बचा और उन्होंने दिल्ली की सड़कों, रेलवे स्टेशन को ही अपना आशियाना बना लिया.

पढ़ें- कठुआ गैंगरेप: भीड़ को पीड़िता के समुदाय के खिलाफ भड़का रहा आरोपियों का वकील, वीडियो आया सामने

राजा सिंह अपनी जिंदगी गुजारने के लिए सुबह से ही वीजा ऑफिस पहुंच जाते हैं. वहां वे लोगों के वीजा आवेदन भरते हैं. उससे खुश होकर कुछ लोग उन्हें पैसे दे देते हैं. हालांकि राजा सिंह फूल कहते हैं कि वे ये काम पैसों के लिए नहीं करते. वे गुरुद्वारे के लंगड में खाना खाकर अपना पेट भरते हैं. कभी-कभी उन्हें भूखा भी सोना पड़ता है. राजा सिहं फूल कहते हैं कि वे पूरी जिंदगी किसी से भीख नहीं मांगेंगे. जिससे उनका आत्मसम्मान को ठेस ना पहुंचे.

अब खबर है कि उन्हें अपना आशियाना मिल गया है. 21 अप्रैल को शेयर किये गए इस पोस्ट में राजा सिंह फूल की मदद करने की भी लोगों से अविनाश ने अपील की थी. उसके बाद तमाम लोग राजा सिंह की मदद करे लिए आगे आए. फिलहाल राजा सिंह को नई दिल्ली स्थित ओल्ड एज होम भेज दिया गया है.

राजा सिंह अब दिल्ली के राजेंद्र नगर में गुरु नानक सुखशाला नामक ओल्ड एज होम में रह रहे हैं. इस मदद के बाद वह बहुत खुश हैं.

First published: 27 April 2018, 11:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी