Home » इंडिया » How to make a good cup of tea
 

कैसे बनाएं एक प्याली सबसे अच्छी चाय

अमित कुमार बाजपेयी | Updated on: 27 April 2016, 15:48 IST
QUICK PILL

देश के हर गली-नुक्कड़, ऑफिस या घर हर जगह दिन में कई दफा चाय बनना साधारण सी बात है. इसके साथ ही हर जगह की चाय का स्वाद भी अलग-अलग होता है. घर की चाय, ऑफिस की चाय, नुक्कड़ की चाय, होटल की चाय, रेलवे स्टेशन की चाय और पांच सितारा होटल की चाय माहौल के साथ स्वाद में भी अलग होती है.

लेकिन कभी आपने सोचा है कि आपकी दिनचर्या में शामिल चाय का स्वाद इतना बेहतरीन भी हो सकता है कि आप उसकी हर चुस्की लेते हुए क्या शानदार चाय है, जरूर बोलें. जी हां, अगर आप भी चाहें तो अपने लिए चाय का सबसे बेहतरीन प्याला बना सकते हैं. 

सुबह की चाय हो या शाम की, बस आप इसे सही ढंग से बनाने का तरीका जान लें और फिर खुद भी इसे पीएं और अपने चाहने वालों को भी पिलाएं. 

पढ़ेंः जानिए दुनिया के अलग-अलग देशों में शराब पीने की सुरक्षित सीमा

आइए जानते हैं कि कैसे आप चाय का सबसे बेहतरीन स्वाद देने वाला कप तैयार करेंगे. महिलाओं के लिए विशेषरूप से शानदार चाय बनाने का तरीका हर घरवाले का दिल जीतने का तरीका बन सकता है. 

कितनी चाय की पत्ती

English_Westminster_Tea.jpg

आपकी चाय दुनिया की सबसे बेहतरीन हो इसके लिए एक वैश्विक पैमाना है. यानी आप अगर चाय बना रहे हैं तो प्रति 100 मिलीलीटर पानी में आपको दो ग्राम चाय की पत्ती डालनी चाहिए. यानी एक व्यक्ति के लिए एक टीस्पून चाय की पत्ती डालना सर्वोचित होता है.

पानी का तापमान

सबसे बढ़िया चाय पीने के लिए आपको टी पैन (भगौना) में ताजा पानी डालकर इसे पूरी तरह उबालना चाहिए. इससे चाय का रंग और सुगंध सबसे बेहतर ढंग से निकलकर सामने आती है.

पढ़ेंः दुनिया की 9 बेमतलब की बेशकीमती चीजें

चाय की चुस्की निराली हो इसके लिए पानी का तापमान सही होना बहुत जरूरी है. हालांकि इसे थर्मामीटर से नापने की जरूरत नहीं है लेकिन जब पानी उबल रहा हो, तभी यह चाय बनाने के लिए सबसे बेहतर होता है.

कैसे रखें पत्ती

हमेशा चाय की पत्ती को एक सील्ड कंटेनर में रखें. इससे चाय की पत्ती हमेशा ताजी रहेगी और इसमें बाहर से कुछ गिर नहीं पाएगा. साथ ही न तो इसमें नमी आएगी और न ही किचन के अन्य मसालों-समान की गंध मिलेगी.

चाय का कप

tea cups.jpg

चाय पीने के लिए हमेशा पोर्सलीन या चीनी मिट्टी के एक कप का इस्तेमाल करें. स्टील-कांच का गिलास चाय की चुस्की के लिए अच्छा नहीं होता. चाय को कप में डालने के बाद इसेे कुछ वक्त मसलन एक मिनट के लिए छोड़ दें ताकि इसका तापमान कुछ कम हो जाए और इसकी गर्मी निकल जाए. 

पारंपरिक चाय के कप कॉफी मग से छोटे और छोड़ेे चौड़े होते हैं. इन्हें इस तरह डिजाइन किया जाता है ताकि ज्यादा देर तक चाय गर्म बनी रह सके.

कितनी देर तक उबालें

boiling water.jpg

ब्लैक टी (काली चाय) को पांच मिनट तक उबालना चाहिए जबकि ग्रीन टी को तीन मिनट तक उबालने की जरूरत होती है. यह वक्त चाय के रंग और इसके सबसे बेहतर स्वाद को बाहर लाने के लिए बहुत जरूरी होता है. 

पढ़ेंः क्या होगा अगर विमान में मोबाइल को फ्लाइट मोड पर नहीं रखा?

ध्यान देने वाली बात है कि अगर आपने इसे कम वक्त के लिए उबाला तो आप चाय के सबसे बेहतर स्वाद और रंग की चुस्की लेने से चूक जाएंगे.

दूध और चीनी

सबसे बेहतर चाय बनाने में दूध का इस्तेमाल सबसे आखिरी में किया जाता है. वो भी तब जब आप एक कप का इस्तेमाल कर रहे हैं टी-पॉट का नहीं. इसके पीछे की प्रमुख वजह यह होती है कि दूध उबलते पानी को तुरंत ठंडा कर देता है पूरी चाय बनने की प्रक्रिया को प्रभावित करता है. 

tea cup1.jpg

पानी में चाय की पत्ती डालकर निर्धारित वक्त तक उबालें और फिर इसे कप में डालें. इसके बाद गर्म दूध चाय में डालें और फिर चीनी डालने के बाद इसे चम्मच से मिलाएं. चीनी की मात्रा आपके स्वादानुसार और दूध की मात्रा 100 मिलीलीटर पानी में 25 मिलीलीटर से ज्यादा न हो.

कुछ पल इंतजार और फिर चुस्की

कप में चाय का गर्म पानी, दूध और चीनी मिलाने के बाद इसे आधे से एक मिनट तक के लिए छोड़ें और फिर इसकी चुस्की लें. इसका स्वाद कैसा लगा, बताइएगा जरूर.

पढ़ेंः लंबी उम्र चाहिए तो जापानियों की तरह खाइए

First published: 27 April 2016, 15:48 IST
 
अमित कुमार बाजपेयी @amit_bajpai2000

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियों-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

पिछली कहानी
अगली कहानी