Home » इंडिया » Hunkar Rally in Ayodhya for ram mandir construction, Iqbal Ansari has Life thread says to leave ayodhya
 

अयोध्या में राम मंदिर को लेकर RSS करेगा 'हुंकार रैली', इक़बाल अंसारी ने कहा- 1992 जैसी दहशत फैलाने की कोशिश

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 November 2018, 8:22 IST

अयोध्या में राम मंदिर को लेकर अब सियासत और भी ज्यादा गर्माती जा रही है. एक तरफ राजनैतिक दल अपनी अपनी सियासत में लगे हैं. वहीं दूसरी तरफ संत समाज ने भी अब राम मंदिर निर्माण के टलने को बर्दाश्त न करने की बात कही है. इसी बीच अयोध्या में 25 नवंबर को राष्ट्रीय सेवक संघ (RSS) और विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने राम मंदिर निर्माण को लेकर एक रैली करने का ऐलान किया है.

इस रैली को लेकर राम मंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद के मुद्दई इकबाल अंसारी ने चिंता जाहिर की है. अयोध्या मामले में मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी ने कहा, ''अयोध्या का मुस्लिम समुदाय अगर ऐसी ही दहशत में रहा, तो मुसलमान अपनी जान की हिफाजत के लिए अयोध्या छोड़ने को मजबूर हो जाएंगे.''


साथ ही उन्होंने ये भी कहा, ''अयोध्या में साल 1992 की तरह का एक बार फिर से माहौल बनाया जा रहा है. संघ और वीएचपी ने ऐसे ही भीड़ साल 1992 में इकट्ठा की थी. उस समय कोई भी मुस्लिम मस्जिद बचाने नहीं गया था. इसके बावजूद मुस्लिम समाज के घर और दुकान लूटे गए थे.''

इकबाल अंसारी ने 1992 के वाकये का हवाला देते हुए कहा कि उस दौरान भी मुस्लिम समुदाय के लोगों के कारोबार को बड़ी ही बेरहमी से तबाह किया गया था. एक बार फिर से अब राम मंदिर निर्माण के नाम पर वैसा ही माहौल बनाया जा रहा है. अयोध्या मामले में अपना पक्षा रखते हुए इकबाल ने कहां, ''हम पहले ही कह चुके हैं कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले को मानने को तैयार हैं. ऐसे में अब अयोध्या में भीड़ क्यों इकट्ठा की जा रही है.''

 

आरएसएस और विश्व हिन्दू परिषद् की 25 नवंबर को होने वाली रैली को लेकर उन्होंने कहा कि मुस्लिम समाज को डराने के मकसद से यहां भीड़ जुटाई जा रही है. गौरतलब है कि बाबरी मस्जिद-राम मंदिर विवाद मामले की सुनवाई अभी सुप्रीम कोर्ट में चल रही है. वहीं इस मामले में साधु-संत समाज और RSS के साथ ही कई हिंदूवादी संगठन राम मंदिर निर्माण के लिए संसद में कानून लाने की मांग कर रहे हैं.

भारी मात्रा में लोगों से इकट्ठा होने की अपील

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए 25 नवंबर को आरएसएस और वीएचपी की होने वाली हुंकार रैली में ज्यादा से ज्यादा लोगों से शामिल होने की अपील की जा रही है. बाकायदा इस रैली के लिए पर्चे बांटे जा रहे हैं. अयोध्या में होने वाली इस रैली के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी लोगों से हुंकार रैली में पहुंचने की अपील की जा रही है. इक़बाल अंसारी इस बड़े पैमाने पर भीड़ को एकजुट करने को लेकर ही चिंतित हैं. 

First published: 15 November 2018, 8:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी